प्रत्याशी को ही मुलायम, अखिलेश समझें कार्यकर्ता

प्रत्याशी को ही मुलायम, अखिलेश समझें कार्यकर्ता

 

18_07_2016-18upd04

लखनऊ। मुख्यमंत्री व समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अखिलेश यादव ने युवा ब्रिगेड को एकजुटता का मंत्र देते हुए कहा कि जिसको विधानसभा का टिकट मिल जाये उसे ही मुलायम सिंह (नेताजी) और अखिलेश मानकर चुनाव लड़ायें और जितायें। भविष्य युवाओं का है। अवसर भी उनके इंतजार में हैं।

सोमवार को समाजवादी पार्टी सभागार में लोहिया वाहिनी व मुलायम सिंह यूथ ब्रिगेड की संयुक्त बैठक में मुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार व भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि धोखे की राजनीति ज्यादा दिनों तक नहीं चलती। भाजपा ने ऐसा धोखा दिया कि जनता तबाह हो गई है। महंगाई चरम पर है। समाज बांटने की कोशिशें हो रही हैं। भाजपा की केंद्र सरकार का राज्य के साथ सौतेला व्यवहार है। आरएसएस अफवाहबाजों की जमात है। वह सद्भाव के विरुद्ध काम करती है।

बसपा, कांग्रेस पर साधा निशाना

अखिलेश ने कहा कि बसपा राज में सरकारी धन की लूट और टिकट बेचे जाने की बात जगजाहिर है। वहां तानाशाही का आलम है और कांग्रेस में साजिश करने वाले चालू लोग भरे हैं। ये दल चुनाव में खूब लड़ ले, इनकी लड़ाई में समाजवादी पार्टी की सरकार बनेगी। कहा कि कार्यकर्ताओं को जनता हितों का ध्यान रखना होगा।

सितंबर से शुरू होगी रथ यात्रा

मुख्यमंत्री ने वर्ष 2017 के विधान सभा चुनाव को जन अभियान का रूप देने का आह्वïान करते हुए कहा कि इस चुनाव से भारतीय राजनीति की दशा और दिशा तय होगी। युवा धोखा और झूठ की राजनीति से दूर रहें। संपन्नता के झगड़े में सिद्धांत नहीं भूलें। लक्ष्य बड़ा है, मगर अवसर भी इंतजार में है। कहा कि विपक्ष समाजवादियों को सत्ता से बाहर करना चाहता है क्योंकि उन्हें विकास से चिढ़ है। जनता न्याय चाहती है। उनके सुख दु:ख में समाजवादी युवाओं को हिस्सा लेना चाहिये।

युवा संभालें चुनावी कमान

अखिलेश ने याद दिलाया कि 2012 में युवा शक्ति ने सत्ता परिवर्तन किया था, अब फिर 2017 की कमान उन्हें संभालनी होगी। बूथ की भूमिका महत्वपूर्ण है। बूथ मजबूत होंगे और युवक जनसंपर्क करेंगे तो बहुमत से कोई रोक नहीं सकेगा। युवक गांव-गांव जायें और समाजवादी सरकार के कामों की जानकारी लोगों बतायें। इसमें लापरवाही नहीं होनी चाहिए। सभा की अध्यक्षता लोहिया वाहिनी के प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप तिवारी व संचालन यूथ ब्रिगेड के मो.एबाद ने किया। सपा महासचिव अरविंद सिंह गोप, मंत्री राजेन्द्र चौधरी, प्रदेश सचिव एसआरएस यादव, अमिताभ बाजपेयी, नईमुलहसन, आनंद भदौरिया, सुनील यादव साजन, डा. राजपाल कश्यप, मुकुल सिंह ‘आशा’, दिग्विजय सिंह, जैनब सिद्दीकी ने भी अपनी बात रखी।

टिकट के लिए दौड़े

अखिलेश यादव ने कहा कि नौजवान विधानसभा चुनाव के लिए टिकटों की दौड़ न लगायें। राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव और वह खुद टिकट बंटवारे में युवा वर्ग को भागीदारी दिलायेंगे। टिकट न मिले तो निराश होने के स्थान पर प्रत्याशी को ही मुलायम, अखिलेश समझकर चुनाव जितायें। उनकी मेहनत पर पूरी नजर रहेगी।

Courtesy: Jagran.com

Categories: Politics, Regional

Related Articles