ब्रिटेन की नई पीएम ने कहा- जरूरी हुआ तो परमाणु बम गिरा कर हजारों लोगों को मौत की नींद सुला देने में हिचकूंगी नहीं

ब्रिटेन की नई पीएम ने कहा- जरूरी हुआ तो परमाणु बम गिरा कर हजारों लोगों को मौत की नींद सुला देने में हिचकूंगी नहीं

download (8)

ब्रिटेन की नई प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने बिना किसी हिचकिचाहट के घोषणा की है कि अगर जरूरत पड़ती है तो वह लाखों लोगों को मारने के लिए परमाणु हमले का आदेश दे सकती है। थेरेसा ने संसद में चल रही ट्राइडेंट परमाणु हथियार कार्यक्रम के रिनूअल पर बहस में यह बात कही। बहस के दौरान एसएनपी के जॉर्ज केरेवन ने पूछा, ‘क्या आप परमाणु हमले को अधिकृत करने की तैयारी कर रहे हैं, जो कि लाखों की जान ले सकता है।’ इसका जवाब थेरेसा ने एक शब्द ‘हां’ में दिया। साथ ही थेरेसा ने सांसदों से कहा कि यूके के लिए अपने हथियारों को खत्म कर देना एक गैरजिम्मेदाराना हरकत होगी। अपने विरोधियों पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि यूके का ट्राईटेंड मिसाइल सिस्टम देश का दुश्मनों से सुरक्षा के लिए पहला मिसाइल सिस्टम है।

पिछले प्रधानमंत्री इस तरह के सवालों का जवाब देने से बचते रहे हैं। सर जेफ्री होवे (जो कि शीत युद्ध के आखिरी वर्षों में विदेश सचिव थे) ने कहा था कि यह एक ऐसा सवाल है जिसका जवाब कोई भी प्रधानमंत्री सीधे तौर पर नहीं देना चाहेगा। लेकिन थेरेसा मे को पता था कि लेबर पार्टी के नेता उनका विरोध करने की पूरी तैयारी में है। बिना पूछे ही जेरेमी कोर्बिन ने अपनी मर्जी से बयान दिया, ‘मैं ऐसा कोई फैसला नहीं ले रहा हूं जो कि लाखों बेगुनाह लोगों को मार दे। मैं इसमें विश्वास नहीं करता कि मास मर्डर की धमकी अंतरराष्ट्रीय संबंधों के लिए सही है।

संसद में चार ट्राइटेंड पनडुब्बियों को रिन्वुअल पर 30 बिलियन ब्रिटिश पाउंड खर्च करने पर सहमत होने के लिए कहा गया था।ट्राइटेंड सबमरीन न्यूक्लियर मिसाइलें और हथियार से लैस होती हैं। दिन और रात में हर वक्त समुद्र में एक पनडुब्बी गश्त करती रहती है।यह मिसाइल सिस्टम यूएसए से खरीदा गया था।

Courtesy- Jansatta

Categories: International

Related Articles