ये था बॉलीवुड के इतिहास का सबसे लोकप्रिय स्टार, दक्षिण में भी थे दीवाने, रजनीकांत ने भी किया सलाम

ये था बॉलीवुड के इतिहास का सबसे लोकप्रिय स्टार, दक्षिण में भी थे दीवाने, रजनीकांत ने भी किया सलाम

r1

बॉलीवुड में हर दौर में आए नये सितारों ने भारतीय सिनेमा के दर्शकों का अपार प्रेम हासिल किया है। चाहे फिर वह अशोक कुमार हो, देवानंद, राजेंद्र कुमार हो या अमिताभ बच्चन, या शाहरुख खान, हर एक को उसके काम के मुताबिक लोकप्रियता मिली है। लेकिन हिंदी सिनेमाई दुनिया के इतिहास में एक ऐसा भी सितारा हुआ है, जिसकी लोकप्रियता, स्टारडम और प्रभाव इतना ज्यादा था कि उसके जादू से पूरा भारत नहीं बच पाया। पूर्व, पश्चिम और उत्‍तर तक तो ठीक है, लेकिन इस सितारे की दीवानगी तो दक्षिण भारत में भी असर कर गई, वह भी इतना कि वहां की एक पीढ़ी आज भी इसे बॉलीवुड का सबसे महान एक्टर मानती है। इस सितारे के साथ कई दक्षिण भारतीय निर्देशकों ने काम किया और मास्टर जी, अमरदीप जैसी फिल्में बनाकर दक्षिण में इसे महान हिंदी कलाकार के रूप में स्थापित किया। इस स्टार की लोकप्रियता को महान दक्षिण भारतीय फिल्म अभिनेता रजनीकांत ने भी सलाम किया है। आइए आपको बताते हैं कौन था वह स्टार जिसकी लोकप्रियता को अब तक कोई नहीं छू पाया है

r2

हिंदी सिनेमा के शुरुआती दौर में पंजाब से आए कई कलाकारों ने धूम मचाई। एक समय ऐसा था कि बॉलीवुड में पृथ्वीराज कपूर की पूरी पीढ़ी ने राज किया और पंजाब तो जैसे बॉलीवुड का दिल बन गया।

r3

हिंदी सिनेमा में लोकप्रियता के रिकॉर्ड कायम कर चुका यह युवा अभिनेता पंजाब से ही आया था और दरअसल यह पंजाबी ही था। जिस दौर में इस युवा ने सिनेमा में एंट्री की उस समय दिग्गज हिंदी सिनेमा में अपना खूंटा गाड़े हुए थे।

r4

लेकिन इस शख्स ने अपने अलहदा अभिनय, अपीरियंस, संवाद अदायगी और सबसे विशेष अपनी खूबसूरती के चलते कुछ ही समय में दर्शकों के दिल में जगह बना ली।

r5

आपको जानकर आश्चर्य होगा कि साल 1966 में अपनी पहली फिल्म आखिरी खत के जरिये बॉलीवुड में एंट्री करने वाले इस युवा अभिनेता ने 1969 से लेकर 1971 तक 15 सोलों सुपर हिट फिल्में लगातार हिट दीं, जो अपने आप में आज भी एक रिकॉर्ड है। इसके बाद यह अभिनेता बॉलीवुड का पहला सुपर स्टार बन गया।

r6

हिंदी सिनेमा के इस करिश्माई और जादुई पहले सुपर स्टार का नाम था, जतिन अरोरा जो 29 दिसंबर 1942 को पंजाब के अमृतसर में जन्मा, लेकिन उसकी शिक्षा मुंबई में ही हुई। यही युवा आगे चलकर हिंदी सिनेमा में राजेश खन्ना के नाम से चर्चित हुआ।

r7

हिंदी सिनेमा के बीते सौ सालों में राजेश खन्ना जैसी लोकप्रियता न तो जुबली स्टार कहे गए राजेंद्र कुमार ने हासिल की, न महानायक कहे गए अमिताभ बच्चन ने, न बॉलीवुड के किंग खान कहे जाने वाले शाहरुख खान ने।

r8

राजेश खन्ना की लोकप्रियता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उन्होंने 1966 से लेकर 1991 तक तकरीबन 71 गोल्डन जुबली फिल्में कीं। उनकी हिट फिल्मों की कतार ने उन्हें दक्षिण भारतीय सिनेमा के भीतर आकर्षण्‍ का केंद्र बना दिया। दक्षिण भारत के दर्शक अपने पसंदीदा अभिनेताओं की फिल्में छोड़ इस हिंदी सिनेमा की पहले सुपरस्‍टार की खूबसूरती देखने के लिए सिनेमा घरों में उमड़ पड़े। फिल्म अराधना ने दक्षिण भारत के लोगों को राजेश खन्ना का दीवाना बनाया।

r9

ये राजेश खन्ना की लोकप्रियता ही थी कि 1979 में उनके साथ तेलुग सिनेमा के निर्देशक आरके कृष्णामूर्ति और तमिल निर्माता के. विजयन ने अमरदीप जैसी फिल्म बनाई, जिसे दक्षिण भारतीय दर्शकों ने हाथों हाथ लिया। इसी तरह 1985 में तेलगु सिनेमा के चर्चित निर्देशक के. राघवेंद्र राओ ने राजेश खन्ना को लेकर ही मास्टर जी फिल्मे बनाई। बता दें कि यह फिल्म 1984 में आ चुकी तमिल फिल्म मुंधानई मुड्डुचू का रिमेक थी।

r10

अपने लंबे सिनेमाई जीवन में पूरे भारत में लोकप्रिय रहे इस सितारे ने तकरीबन 163 फिल्मों में काम किया, जिसमें से 105 फिल्‍में सुपर हिट रहीं। जबकि इसमें से भी 22 सिल्वर जुबली और 71 गोल्डन जुबली रहीं।

r11

राजेश खन्ना की लोकप्रियता की शिखर की ऊंचाई का अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि उनकी इसी स्टार छवि को तत्कालीन कांग्रेस पार्टी ने भुनाया और वे नई दिल्ली लोकसभा सीट से पांच वर्ष यानी की 1991-96 तक कांग्रेस पार्टी के सांसद रहे।

r12

ये राजेश खन्ना की लोकप्रियता की बुलंदी है कि उन्हें फिल्मफेयर पुरस्कार के लिए चौदह बार तथा बंगाल फिल्म जर्नलिस्ट अवॉर्ड के लिए पच्चीस बार नामांकित किया गया। यही नहीं दोनों पुरस्कारों के लिए उन्हें कुल 39 बार नामांकित किया गया, जिसमें से उन्हें तीन बार फिल्मफेयर पुरस्कार एवं चार बार बंगाल फिल्म जर्नलिस्ट अवॉर्ड मिला। राजेश खन्ना को दस बार ऑल India critics पुरस्कार के लिए नामांकित किया गया और उन्हें सात बार यह अवॉर्ड मिला।

Courtesy: IBN Khabar

Categories: Entertainment

Related Articles