बंद हुई दुनिया की सबसे बड़ी पायरेसी साइट, पोलैंड से अरेस्ट हुआ फाउंडर

बंद हुई दुनिया की सबसे बड़ी पायरेसी साइट, पोलैंड से अरेस्ट हुआ फाउंडर

msid-53321041,width-400,resizemode-4,piracy

वॉशिंगटन
दुनिया की सबसे बड़ी पायरेसी साइट कही जाने वाली किकास टॉरंट्स को अमेरिकी सरकार ने बंद करवा दिया है। यही नहीं क्रिमिनल चार्ज लगाते हुए वेबसाइट के संस्थापक यूक्रेन के नागरिक को अरेस्ट कर लिया है। इस व्यक्ति पर एक अरब डॉलर की कीमत की अवैध रूप से कॉपी गई फिल्मों, म्यूजिक कैसेट्स और अन्य सामग्री को बांटने का आरोप है। अमेरिका के जस्टिस डिपार्टमेंट के अनुसार यूक्रेन के रहने वाले 30 वर्षीय आरटम वॉलिन के खिलाफ आपराधित शिकायत दर्ज कराई गई थी।

बुधवार को अमेरिकी एजेंसियों ने वॉलिन को पोलैंड से अरेस्ट कर लिया। वॉलिन पर कॉपीराइट कानूनों का उल्लंघन करने, मनी लॉन्ड्रिंग और अन्य आरोपों के तहत केस दर्ज किए गए हैं। वॉलिन पर आरोप है कि वह खुद किकास टॉरंट्स, जिसे KAT भी कहते हैं, का मालिक है। यह साइट बीते कुछ सालों में पूरी दुनिया में पायरेटिड कॉन्टेंट का सबसे बड़ा स्रोत बन चुकी थी। साइट और उसके मालिक के खिलाफ दर्ज कराई गई आपराधिक शिकायत में कहा गया है, ‘यह साइट अपने यूजर्स को अच्छा माहौल देती है, जिसमें लोग कॉन्टेंट सर्च करते हैं और डाउनलोड कर सकते हैं। यह सीधे तौर पर कॉपीराइट कानूनों का उल्लंघन है।’

अमेरिका के जस्टिस डिपार्टमेंट के बयान के मुताबिक, ‘किकास टॉरंट्स नाम की यह साइट लोगों को फिल्म, विडियो गेम, टेलिविजन प्रोग्राम्स, म्यूजिक और अन्य इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में प्रसारित सामग्री मुहैया कराती है। यह साइट इंटरनेट पर सबसे ज्यादा विजिट करने वाली कंपनियों में 69वें स्थान पर है।’

असिस्टेंट अटॉर्नी जनरल लेसली कॉल्डवेल ने कहा, ‘वॉलिन पर दुनिया की सबसे ज्यादा विजिट होने वाली अवैध फाइल शेयरिंग वेबसाइट चलाने के आरोप में केस दर्ज किया गया है। यह शख्स एक अरब डॉलर से अधिक की कीमत वाली कॉपीराइट सामग्री को वितरित करने का आरोपी है।’ कॉल्डवेल के मुताबिक, ‘दुनिया भर के कानूनों को चकमा देने के लिए यह शख्स साइट चलाने के लिए कई सर्वर का इस्तेमाल कर रहा था। यह समय-समय पर अपने डोमेन को बदलता रहता था। इस शख्स को पोलैंड से अरेस्ट कर लिया गया है।’

Courtesy: NBT

 

Categories: Crime, International