मायावती अपमान: दयाशंकर की जीभ काटने पर 50 लाख का रखा इनाम

मायावती अपमान: दयाशंकर की जीभ काटने पर 50 लाख का रखा इनाम

JAHAN-580x380

लखनऊ: बसपा सुप्रीमो मायावती पर बीजेपी प्रदेश उपाध्यक्ष दयाशंकर सिंह की तरफ से की गई आपत्तिजनक टिप्पणी के बाद दयाशंकर की जीभ काटकर लाने वाले को 50 लाख रूपए इनाम की घोषणा की गई है.

बीएसपी की चंडीगढ़ यूनिट की चीफ जन्नत जहां ने गुरुवार को दयाशंकर सिंह की जीभ पर 50 लाख के इनाम की घोषणा की है. जन्नत जहां ने कहा कि जो भी दयाशंकर की जीभ लाकर देगा, उसे 50 लाख रुपये दिए जाएंगे.

बीजेपी ने पार्टी से निकाला

टिप्पणी करने के बाद दयाशंकर सिंह को पार्टी से 6 साल के लिए निकाल दिया गया है. प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने उन्हें पार्टी से बर्खास्त कर दिया. इससे कुछ घंटे पहले उन्होंने सिंह को सभी संगठनात्मक जिम्मेदारियों से मुक्त करने की घोषणा की थी.

क्या कहा था दया शंकर सिंह ने?

मायावती को लेकर उपाध्यक्ष दया शंकर सिंह ने कहा था, “मायावती टिकट बेचती हैं. वो इतनी बड़ी नेता हैं, तीन बार सूबे की सीएम रही हैं. लेकिन वो उन्हें टिकट देती हैं जो उन्हें 1 करोड़ रुपये देने को राजी होता है. अगर कोई 2 करोड़ देने को तैयार हो जाता है तो वो उसे टिकट दे देती हैं. अगर कोई 3 करोड़ दे दे तो उसे ही दे देंगी. आज उनका चरित्र #@&*% से भी ज्यादा खराब है.”

दया शंकर सिंह अब तक पार्टी में महासचिव रहे हैं और पिछले महीने ही विधान परिषद का चुनाव हार गए थे.

मायावती का जवाब

बीजेपी नेता के अभद्र भाषा पर बीएसपी अध्यक्ष मायावती की प्रतिक्रिया आई है. मायावती ने कहा है कि इससे बीजेपी की सोच का पता चलता है. इसके साथ ही बीएसपी सुप्रीमो ने कहा कि बीजेपी की हताशा बता रही है कि सूबे में बीएसपी की ताकत कैसे बढ़ रही है.

मायावती ने राज्यसभा में कहा कि केवल खेद प्रकट करने से काम नहीं चलेगा, मांग की कि दया शंकर को पार्टी से निकाला जाए और कार्रवाई की जाए. मायावती ने काफी गुस्से में कहा कि दया शंकर ने जो बात उनके लिए कही है वो दरअसल, उनके लिए नहीं, देश की बेटी के लिए कही है.

दयाशंकर सिंह के खिलाफ लखनऊ में एफआईआर दर्ज

बीजेपी सूत्रों ने कहा कि पार्टी के नियमों के तहत सिंह छह साल तक पार्टी से बाहर रहेंगे.  इसके साथ ही दयाशंकर सिंह के खिलाफ लखनऊ में बीएसपी नेता मेवालाल गौतम ने एफआईआर दर्ज कराई है. उनकी मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं. सिंह की टिप्पणी को लेकर बीते दिन राज्यसभा में जोरदार हंगामा हुआ. महिला सांसद सहित राज्यसभा सदस्यों ने टिप्पणी की कड़ी आलोचना की.

बीएसपी कार्यकर्ता भी भूल गए मर्यादा

हालांकि, इस बीच जो कार्य़कर्ता बीजेपी के खिलाफ नारे लगा रहे थे वह भी मर्य़ादा के खिलाफ ही नजर आ रहा था. ‘कुत्ता’ लिखकर बड़े-बड़े पोस्टर लगाए गए थे. यही नहीं कई भद्दी टिप्पणियां और गालियां भी दी जा रही थी. कुछ कार्य़कर्ता काफी गुस्से में नजर आ रहे थे. उनकी उग्रता को देखते हुए पुलिस काफी मुस्तैद थी.

Courtesy: ABPNews

Categories: Politics, Regional

Related Articles