एम्‍स-खाद कारखाने का शि‍लान्‍यास करेंगे पीएम, जानें मि‍नट-टू-मि‍नट प्रोग्राम

एम्‍स-खाद कारखाने का शि‍लान्‍यास करेंगे पीएम, जानें मि‍नट-टू-मि‍नट प्रोग्राम

narendra-modi_1469156819

गोरखपुर. नरेंद्र मोदी 22 जुलाई को गोरखपुर में एम्‍स और खाद कारखाने का शि‍लान्‍यास करेंगे। साथ ही एक जनसभा को संबोधि‍त करेंगे। उनका स्वागत करने गवर्नर राम नाईक के साथ अखिलेश यादव और उनके मंत्री ब्रह्माशंकर त्रिपाठी भी गोरखपुर पहुंच रहे हैं।जानें नरेंद्र मोदी का मिनटटू मिनट प्रोग्राम

पीएम मोदी का 22 जुलाई को गोरखपुर में कार्यक्रम

> सुबह 9.25 बजे भारतीय वायुसेना के विमान से दिल्ली से रवाना होंगे।
> 9.45 बजे गोरखपुर एयरपोर्ट पहुंचेंगे।
> 10.50 बजे हेलि‍कॉप्टर से एयरपोर्ट से मुख्य कार्यक्रम स्थल खाद कारखाना के लिए रवाना होंगे

> 11.10 बजे खाद कारखाना परिसर में बने हेलीपैड पर उतरेंगे।
> 11.15 बजे खाद कारखाना परिसर से सड़क मार्ग से 11.25 बजे गोरखनाथ मंदिर पहुंचेंगे।
> 11.25 से 11.45 बजे तक गोरखपुर मंदिर में ब्रह्मलीन महंत अवैद्यनाथ की प्रतिमा के अनावरण कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे।
> 11.50 बजे गोरखनाथ मंदिर से सड़क मार्ग से वापस 12 बजे खाद कारखाना परिसर पहुंचेंगे।
> 12 से 12.10 बजे खाद कारखाना और एम्स का शिलान्यास करेंगे।
> 12.15 बजे से 1.15 बजे तक जनसभा को संबोधित करेंगे।
> 1.20 बजे जनसभा स्थल से चलकर 1.25 बजे हेलीपैड पर पहुंचेंगे।
> 1.30 बजे हेलि‍कॉप्टर से 1.50 बजे गोरखपुर एयरपोर्ट पहुंचेंगे।
> 1.55 बजे विमान से दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे।
> 3.15 बजे दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचेंगे पीएम।

पीएम के साथ 40 मिनट रहेंगे सीएम

– सीएम राजकीय विमान से सुबह 10 बजे और गवर्नर 10.05 बजे गोरखपुर एयरपोर्ट पर पहुंचेंगे।
– सीएम एयरपोर्ट पर लगभग 40 मिनट वीआईपी लाउंज में रहेंगे।
– 10.45 बजे पीएम का स्वागत करने के बाद 11 बजे लखनऊ लौट जाएंगे।
– खादी एवं ग्रामोद्योग मंत्री ब्रहमाशंकर त्रिपाठी प्रधानमंत्री के कार्यक्रमों में राज्य सरकार का प्रतिनिधित्व करेंगे।
– माना जा रहा है कि शिलान्यास स्थल पर असहज स्थितियों से बचने के लिए सीएम इससे दूर रहना चाहते हैं।
– हालांकि जिला प्रशासन ने सीएम की फ्लीट के लिए 12 और राज्यपाल की फ्लीट के लिए 8 गाड़ियों की व्यवस्था की है।

एम्स को लेकर बवाल

– एम्स को लेकर भाजपा और सपा के बीच जुबानी जंग का कारण भूमि को लेकर चल रहा था।
– बीजेपी का कहना था कि खुटहन की विवादित भूमि एम्स के लिए देकर राज्य सरकार चाहती है कि एम्स गोरखपुर में न बने।
– सपा का कहना है कि यदि केंद्र ने एम्स दिया है तो भूमि राज्य सरकार ने ही दी है।
– कांग्रेस भी अब इसमें पीछे नहीं है उसका कहना है कि आज यदि फर्टिलाइजर कारखाने का शिलान्यास हो रहा है तो उसका मार्ग मनमोहन सरकार ने प्रशस्त किया है।
– चाहे वह हजारों करोड़ रुपये का बकाया हो या फिर हल्दिया से जगदीशपुर तक गैस पाइप लाइन बिछाने का कार्य हो।

Courtesy: Bhaskar.com

Categories: Politics, Regional