इलाहाबाद: SP विधायक सईद अहमद के खिलाफ FIR दर्ज कराने वाले व्यापारी को जान का खतरा

इलाहाबाद: SP विधायक सईद अहमद के खिलाफ FIR दर्ज कराने वाले व्यापारी को जान का खतरा

Allahabad2-580x382

इलाहाबाद: संगम नगरी इलाहाबाद में समाजवादी पार्टी के दबंग विधायक सईद अहमद के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने वाले व्यापारी ने अब उनसे जान का खतरा जताते हुए सुरक्षा मुहैया कराए जाने की गुहार लगाई है.

व्यापारी का आरोप है कि विधायक सईद अहमद ने ज़मीन देने के नाम पर धोखाधड़ी कर पहले तो उसके पंचानबे लाख रुपये हड़प लिए और जब उसने कोर्ट के आदेश पर उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई तो विधायक ने सत्ता की धौंस दिखाकर केस में फाइनल रिपोर्ट लगवा दी है.

FIR Against Two MLA Of Samajwadi Party, Allahabad- 02 (MLA Saeed)

विधायक करा सकते हैं जानलेवा हमला

अब व्यापारी को डर है कि रसूखदार विधायक जानलेवा हमला कराकर उसकी ज़िंदगी के लिए खतरा पैदा कर सकते हैं.

इलाहाबाद की फूलपुर सीट से समाजवादी पार्टी के दबंग विधायक सईद अहमद पर आरोप है कि उन्होंने शहर के सबसे पाश इलाके की एक ज़मीन को कई लोगों से बेचने का एग्रीमेंट कर सभी से लाखों रूपये वसूल कर लिए थे.

95 लाख रूपये एडवांस लेकर किया था रजिस्टर्ड एग्रीमेंट

शहर के एक बड़े बिजनेसमैन सरदार जोगिन्दर सिंह का आरोप है कि विधायक सईद अहमद ने आठ साल पहले इस ज़मीन के लिए उनसे 95 लाख रूपये एडवांस लेकर उनसे रजिस्टर्ड एग्रीमेंट किया था.

कई साल बीत जाने के बावजूद विधायक ने जब न तो ज़मीन दी और न ही उनके एडवांस पैसे लौटाए तो बिजनेसमैन जोगिन्दर सिंह ने अदालत से आदेश कराकर विधायक के खिलाफ दो साल पहले पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करा दी.

पैसे लौटाने का दावा और उसके कागज़ दोनों ही हैं फर्जी

आरोप है कि विधायक सईद अहमद ने साल 2011 का एक फर्जी कागज़ तैयार कर पैसे लौटाने का दावा किया है, जबकि साल 2012 के विधानसभा चुनाव के नॉमिनेशन में उन्होंने जो हलफनामा दाखिल किया है, उसमे इसी व्यापारी के नब्बे लाख रूपये उधार होने की बात कही है. ऐसे में विधायक के पैसे लौटाने के दावे और उसके कागज़ दोनों ही फर्जी हैं.

आरोप है कि विधायक ने सत्ता की धौंस दिखाकर पहले तो मामले को दो साल तक लटकाए रहे और अब उसमे फाइनल रिपोर्ट लगवा दी. व्यापारी का आरोप है कि पुलिस ने जांच किये बिना ही विधायक के दबाव में यह फाइनल रिपोर्ट लगाई है. पीड़ित व्यापारी ने विधायक से जान का खतरा बताते हुए अपनी सुरक्षा की गुहार लगाई है.

Allegation Against SP MLA Saeed Ahmad. Allahabad- 7

विधायक ने खुद को बताया बेगुनाह

दूसरी तरफ आरोपी विधायक ने खुद को बेगुनाह बताते हुए इसे अपने और अखिलेश सरकार के खिलाफ सियासी साजिश करार दिया है. विधायक ने बिजनेसमैन से पैसे लेने की बात तो कबूल की है, लेकिन उनका दावा है कि उन्होंने एडवांस ली गई रकम वापस कर दी थी. विधायक ने व्यापारी के आरोपों को दरकिनार करते हुए खुद अपनी जान का खतरा बताया है. व्यापारी के आरोपों को उन्होंने विरोधियों की गहरी साजिश करार दिया है.

वैसे विधायक सईद अहमद पर ज़मीन का फर्जीवाड़ा कर कई लोगों के मुक़दमे हड़पने के तमाम आरोप पहले भी लगे हैं. कुछ मामलों में तो उनके खिलाफ इससे पहले भी एफआईआर दर्ज है.

अगर विधायक पर लगे आरोप सही हैं तो सवाल यह उठता है कि सत्ताधारी पार्टी के विधायक ही एक ज़मीन को बेचने के लिए कई-कई लोगों से एग्रीमेंट कर उनके लाखों रूपये हड़प करेंगे तो आम जनता किस पर भरोसा करेगी और इन्साफ पाने के लिए कहां जाएगी?

Courtesy: ABP News

Categories: Politics, Regional

Related Articles