एशिया के बाहर टेस्ट में भारत की सबसे बड़ी जीत, इंडीज को इनिंग और 92 रन से हराया

एशिया के बाहर टेस्ट में भारत की सबसे बड़ी जीत, इंडीज को इनिंग और 92 रन से हराया

motm-ashwin_1469394163

एंटिगुआ.भारत ने वेस्ट इंडीज के खिलाफ चार टेस्ट की सीरीज का पहला मैच एक इनिंग और 92 रन से जीत लिया। भारत की 566/8 रन की पहली इनिंग के जवाब में मेजबान टीम 243 पर ऑल आउट हो गई थी। फॉलोऑन खेलते हुए इंडीज की टीम रविवार को 231 रन पर सिमट गई। मैन ऑफ द मैच चुने गए अश्विन ने दूसरी इनिंग में 83 रन देकर 7 विकेट झटके। पिछले 11 महीने में कोहली की कप्तानी में टीम ने 7 टेस्ट खेले हैं, उनमें से 6 मैच जीते हैं। कैसे जीता भारत और 7 वजहों के जरिए जानें क्यों अहम है ये जीत

मैच समरी

भारत फर्स्ट इनिंग 566/8 (डिक्लेयर)

वेस्ट इंडीज फर्स्ट इनिंग– 243 ऑल आउट, भारत को 323 रन की बढ़त मिली

वेस्ट इंडीज फॉलोऑन– 231 ऑल आउट

रिजल्ट– भारत ने एक इनिंग और 92 रन से मैच जीता।

भारत के लिए क्यों खास है ये जीत

1# सबसे बड़ी जीत

– भारत के 84 साल के टेस्ट इतिहास में एशिया के बाहर ये टीम की सबसे बड़ी जीत है।

– इससे पहले एशिया के बाहर टीम को सबसे बड़ी जीत 2005 में जिम्बाब्वे पर मिली थी।

– भारत ने तब जिम्बाब्वे को एक इनिंग और 90 रन से हराया था।

2# इंडीज में पहली बार एक इनिंग से जीत

– ये पहला मौका है जब भारत ने वेस्ट इंडीज को इतनी बुरी तरह हराया है।

– इससे पहले तक भारत कभी इंडीज में एक इनिंग से जीत हासिल नहीं कर पाया था।

3# अश्विन का कारनामा

(a) सेन्चुरी और 7 विकेट लेने वाले दुनिया के तीसरे खिलाड़ी

– इंडीज की पहली इनिंग में एक भी विकेट नहीं ले पाए अश्विन ने दूसरी इनिंग में कमाल कर दिया।

– पहली इनिंग में सेन्चुरी (113 रन) लगाने के बाद वेस्ट इंडीज के फॉलोऑन में 25 ओवर बॉलिंग करते हुए 83 रन देकर 7 विकेट झटके।

– इस दौरान उन्होंने चंद्रिका, सैमुअल्स, ब्लैकवुड, चेस, होल्डर, बिशू और गेब्रिएल को आउट किया।

– एक ही टेस्ट में सेन्चुरी लगाकर 7 विकेट लेने के मामले में अश्विन दुनिया के टॉप-3 प्लेयर्स में शामिल हो गए हैं।

– उनसे पहले ऑस्ट्रेलिया के जैक ग्रेगरी ने 1921 में और इंग्लैंड के इयान बॉथम ने 1978 और 1980 यह कारनामा कर चुके हैं।

(b) करियर में दो बार सेन्चुरी के साथ 5 विकेट लेने वाले पहले भारतीय

– एशिया के बाहर अश्विन के टेस्ट करियर की ये बेस्ट बॉलिंग परफॉर्मेंस भी है।

– अश्विन ने अपने करियर में दूसरी बार सेन्चुरी और पांच या उससे ज्यादा विकेट लिए। ऐसा करने वाले वे पहले भारतीय हैं।
– उनसे पहले वीनू मांकड़ और पाली उमरीगर एक-एक बार ऐसा कारनामा कर चुके हैं।

– इससे पहले 2011 में अश्विन ने इंडीज के खिलाफ ही मुंबई में 103 रन बनाए थे और 5 विकेट झटके थे।

– अश्विन ने इसी मैच में सेन्चुरी लगाकर इंडीज के खिलाफ करियर में तीन शतक लगाने के सचिन के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली थी।

4# विराट के लिए याद रखा जाएगा मैच

– इसी मैच में भारतीय कप्तान विराट कोहली ने अपने करियर की पहली डबल सेन्चुरी (200 रन) भी लगाई।

– भारत के 84 साल के टेस्ट इतिहास में विदेशी धरती पर ऐसा करने वाले वे पहले भारतीय कप्तान बने।

– ये फर्स्ट क्लास से लेकर वनडे इंटरनेशनल या टेस्ट तक किसी भी फॉर्मेट में कोहली के करियर की पहली डबल सेन्चुरी थी।

– 200+ बनाने वाले भारत के 5th टेस्ट कैप्टन बने। उनसे पहले नवाब पटौदी, गावसकर, सचिन और धोनी ऐसा कर चुके हैं।

– 26 साल पहले यानी 1990 में अजहर ने बतौर कैप्टन विदेश में बनाए थे 192 रन।

– 19 साल पहले यानी 1997 में सचिन ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ 169 रन बनाए थे।

5# एक साल में कोहली की कप्तानी में जीत का रिकॉर्ड

– अगस्त 2015 से जुलाई 2016 के बीच भारत ने कोहली की कप्तानी में 7 टेस्ट खेले हैं।

– इन सात में से इंडिया ने 6 मैच में जीत हासिल की है।

6# 14 साल से नहीं हारा भारत
– भारत वेस्ट इंडीज से पिछले 14 साल में एक बार भी नहीं हारा है। इस दौरान दोनों के बीच 16 टेस्ट खेले जा चुके हैं।

– भारत 2002 में आखिरी बार इंडीज से हारा था। तब वेस्टइंडीज ने टीम इंडिया को किंगस्टन टेस्ट में 155 रनों से हराया था।

– भारत वेस्टइंडीज के बीच अभी तक 90 टेस्ट मैच खेले जा चुके हैं। इसमें इंडीज ने 30 जीते जबकि 44 मैच ड्रा छूटे हैं। भारत को 16 मैचों में जीत मिली है।

– भारत ने एंटीगुआ टेस्ट जीतकर 17वीं जीत हासिल की है।

7# दूसरी बार जीता पहला टेस्ट
– आम तौर पर भारतीय टीम विदेशी टूर पर वहां के माहौल में घुलने-मिलने में समय लेती है और सीरीज के बीच में जाकर फॉर्म में आती है।

– यहां मामला ठीक उलटा है। भारत ने जाते ही जीत से शुरुआत की है। यह कारनामा उसने इंडीज में दूसरी बार किया है।

– इससे पहले 2011 में भारतीय टीम किंगस्टन में पहला टेस्ट जीती थी।

कैसी रही चौथे दिन वेस्ट इंडीज की बैटिंग

– चौथे दिन वेस्ट इंडीज की टीम ने 1 विकेट पर 21 रन से आगे खेलना शुरू किया।

– मेजबान टीम की शुरुआत बेहद खराब रही, चौथे दिन के पहले ही ओवर में डेरेन ब्रावो 10 रन बनाकर आउट हो गए।

– ब्रावो को उमेश यादव ने अजिंक्य रहाणे के हाथों कैच कराया। जब ब्रावो आउट हुए तब टीम का स्कोर 21/2 रन था।

– इसके बाद बैटिंग करने आए मार्लोन सैमुअल्स ने क्रीज पर मौजूद चंद्रिका के साथ शानदार बैटिंग की।

– दोनों ने मिलकर अगले 22 ओवर तक कोई विकेट नहीं गिरने दिया दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 67 रन जोड़े।

– इस जोड़ी को आर. अश्विन ने तोड़ा। उन्होंने चंद्रिका (31) को साहा के हाथों कैच करा इंडीज को तीसरा झटका दिया।

– इसके बाद बैटिंग करने आए जरमैन ब्लैकवुड (0) लगातार दूसरी इनिंग में भी खाता नहीं खोल पाए।

– अश्विन ने ब्लैकवुड को विराट कोहली के हाथों कैच करा पवेलियन भेज दिया।

सैमुअल्स ने लगाई फिफ्टी

– वेस्ट इंडीज की ओर से मार्लोन सैमुअल्स ने शानदार बैटिंग की। उन्होंने 85 बॉल पर 50 रन बनाए, जिसमें 11 चौके भी लगाए।

– सैमुअल्स काफी आक्रामक अंदाज में खेल रहे थे। अश्विन ने सैमुअल्स को बोल्ड कर पवेलियन भेज दिया।

– इंडीज को छठा झटका रोस्टन चेस (8) के रूप में लगा। उन्हें अश्विन की बॉल पर लोकेश राहुल ने कैच कर लिया।
– शेन डोरिक (9) के रूप में अमित मिश्रा ने मेजबान टीम का सातवां विकेट गिराया। मिश्रा ने डोरिक को lbw कर दिया।
– आउट होने वाले आठवें बैट्समैन रहे कप्तान जेसन होल्डर (16), जिन्हें आर. अश्विन ने बोल्ड कर दिया।

– नौवां विकेट देवेंद्र बिशू (45 रन) का रहा। उन्हें अश्विन ने पुजारा के हाथों कैच कराया।

– दसवां और आखिरी विकेट शैनन गेब्रिएल (4) का रहा। वे अश्विन की बॉल पर बोल्ड हो गए।

– दूसरी इनिंग में भारत के लिए अश्विन ने 7 तो वहीं इशांत, शमी और मिश्रा ने 1-1 विकेट झटका।

दूसरी इनिंग में वेस्ट इंडीज का स्कोर बोर्डः

बैट्समैन रन बॉल 4 6
क्रेग ब्रेथवेट lbw बो. इशांत शर्मा 2 5 0 0
राजेंद्र चंद्रिका कै. साहा बो. अश्विन 31 108 5 0
डेरेन ब्रावो कै. रहाणे बो. यादव 10 43 2 0
मार्लोन सैमुअल्स बो. अश्विन 50 85 11 0
जरमैन ब्लैकवुड कै. कोहली बो. अश्विन 0 6 0 0
रोस्टन चेस कै. राहुल (सब्सिट्यूट) बो. अश्विन 8 28 1 0
शेन डोरिक lbw बो. मिश्रा 9 14 1 0
जेसन होल्डर बो. अश्विन 16 25 1 1
कार्लोस ब्रेथवेट नॉट आउट 51* 82 3 2
देवेंद्र बिशू कै. पुजारा बो. अश्विन 45 74 6 1
शैनन गेब्रिएल बो. अश्विन 4 3 1 0

Courtesy: Bhaskar.com

Categories: Sports