मोदी ने कहा- जब दिल्ली में नया था तब राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने उंगली पकड़कर सिखाया

670-modi-pranab-1-new_146

नई दिल्ली. नरेंद्र मोदी ने प्रणब मुखर्जी की जमकर सराहना की है। मोदी ने कहा, “जब मैं दिल्ली में नया-नया आया था, तब राष्ट्रपति ने एक गार्जियन की तरह मुझे उंगली पकड़कर चीजें सिखाई थीं। जो मौका मुझे मिला, वो बहुत कम लोगों को मिलता है।” मोदी ने ये बातें सोमवार को राष्ट्रपति भवन म्यूजियम के सेकंड फेज के इनॉगरेशन के मौके पर कही।

आम आदमी और सत्ता के सर्वोच्च केंद्र के बीच का पुल बताया…

– मोदी ने राष्ट्रपति के बारे में कहा, “उन्होंने अपने लंबे सार्वजनिक जीवन और 4 साल के राष्ट्रपति के टेन्योर में कई ऐतिहासिक कामों को अंजाम दिया है।”

– “प्रणब मुखर्जी ने राष्ट्रपति भवन को एक आम आदमी और सत्ता के सर्वोच्च केंद्र के बीच का पुल बना दिया है।”

– मोदी ने कहा, “सबसे अहम बात ये है कि उनका पॉलिटिकल बैकग्राउंड अलग है और मेरा अलग।”

– “लेकिन उनके साथ मैंने सीखा कि कैसे अलग-अलग राजनीतिक विचारधारा होने के बावजूद लोकतंत्र में एक-दूसरे से कंधे से कंधा मिलाकर काम किया जा सकता है।”
– “सरकार की सारी स्कीमें राष्ट्रपति भवन में इम्प्लीमेंट हुई हैं।”
– मोदी के मुताबिक, “एक दूसरी पार्टी की सरकार की योजनाएं राष्ट्रपति भवन में लागू होना प्रणब दा की महानता को दिखाता है।”

Courtesy: Bhaskar.com

Categories: India, Politics

Related Articles