बीस साल बाद गोद भरी, वह भी तीन गुनी खुशी के साथ

बीस साल बाद गोद भरी, वह भी तीन गुनी खुशी के साथ

29_07_2016-28mrtpvl605-c-2

कंकरखेड़ा (मेरठ) : बीस साल तक औलाद के लिए तरसने वाले एक दंपती को ऊपर वाले ने तीन संतानों का सुख एक साथ दे दिया। गुरुवार को एक महिला ने कंकरखेड़ा स्थित एक अस्पताल में तीन बेटों को एक साथ जन्म दिया। तीन बच्चे एक साथ पैदा होने की सूचना क्षेत्र में चर्चा का विषय बनी रही।

बड़ौत के जोहड़ी गांव निवासी अनिल की शादी सुमन के साथ बीस साल से पहले हुई थी। परंतु दोनों को संतान का सुख प्राप्त नहीं हुआ। संतान के लिए दोनों ने मिन्नतें मांगी और जगह-जगह माथा टेका। लेकिन इसके बाद भी उन्हें निराशा हाथ लगी। बीस साल बाद ऊपर वाले ने आखिर इस दंपती की पुकार सुन ली और अनिल को पत्नी के गर्भवती होने की जानकारी मिली। गुरुवार को सुमन ने कंकरखेड़ा स्थित एक अस्पताल में एक साथ तीन बेटों को जन्म दिया। तीन बेटों का पिता बनने की जानकारी मिलते ही अनिल की खुशी का ठिकाना न रहा। अनिल ने बताया कि भोले ने उनकी सुन ली। महिला व तीनों बच्चे पूरी तरह स्वस्थ है। हालांकि इस विषय पर केएमसी की स्त्री रोग विशेषज्ञ डा. प्रतिभा सिंह कहती हैं कि 52 से 55 वर्ष तक की महिलाओं में बच्चा पैदा होते देखा गया है। संभव है कि इस महिला को अब सटीक चिकित्सा मिली हो। टेस्ट टयूब बेबी सेंटर के संचालक डा. अनिरुद्ध सिंह ने कहा कि कई बार किसी महिला में बच्चा पैदा करने के लिए जरूरी फैक्टर 15 वर्ष बाद एक्टिव हो सकता है, जो इस महिला के केस में हुआ होगा।

Courtesy: Jagran.com

Categories: Regional
Tags: Triplets