योगी आदित्यनाथ को शकुनि-मनुवादी आतंकी कहे जाने पर ‘हियुवा’ ने किया प्रदर्शन

yogi-adityanath_146970351

गोरखपुर.नेताओं द्वारा की जा रही विवादित बयानबाजी राजधानी लखनऊ से निकलकर गोरखपुर में पहुंच गई है। दयाशंकर सिंह, मायावती और उनकी पार्टी के लोगों की ओर से की जा रही विवादित बयानबाजी से राजनीतिक माहौल गर्म है। ऐसे में पीस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं खलीलाबाद से विधायक डॉ. अय्यूब ने बीजेपी के फायरब्रांड नेता महंत योगी आदित्यनाथ के खिलाफ विवादित बयानबाजी कर आग में घी डालने का काम किया है। योगी पर गलत टिप्पणी किए जाने को लेकर गुरुवार को हिन्दू युवा वाहिनी (हियुवा) ने गोरखपुर में डॉ. अय्यूब का पुतला जलाया और उनकी पार्टी के कार्यालय बक्शीपुर पहुंचकर जबरदस्त प्रदर्शन किया। अय्यूब ने इसलिए दिया विवादित बयान
विधानसभा के चुनावी दंगल की तैयारी में जुटे मो. अय्यूब ने योगी को शकुनी और मनुवादी आतंकवादी बताया। यही नहीं, उन्‍होंने कहा कि योगी हिन्दू सभ्यता को तोड़ने में लगे हैं। बुधवार को बड़हलगंज स्थित अपने आवास पर पत्रकारों से बातचीत में डॉ. अय्यूब ने कहा कि हिंदुत्व भारतीय सभ्यता है, जबकि मनुवाद एक विचारधारा है। जिसे धर्म, जाति व संप्रदाय से नहीं जोड़ा जा सकता। देश में आदि काल से अलग-अलग धर्म को मानने वाले लोग आए, उनमें कुछ मुगल और अंग्रेज थे। जिन्होंने देश को सिर्फ लूटने का काम किया। उन्‍होंने कहा कि जिस प्रकार शकुनि ने कौरवों का नाश कराया, उसी प्रकार मनुवादी सभ्यता के लोग हिन्दू समाज को नेस्तनाबूद करने में जुटे हैं। ऐसी मनुवादी विचारधारा के लोग भारतीयों को अपने बराबर नहीं मानते हैं। धर्म के नाम पर भेदभाव कर समाज को तोड़ने का काम करते हैं।

कहाडीएनए टेस् करा लें योगी, पता चल जाएगा कौन है भारतीय

आईएसआई प्रमुख से अपने संबंधों का खुलासा करने के योगी के बयान पर उन्‍होंने कहा कि उनका और मेरा डीएनए टेस्ट हो जाए तो तस्वीर साफ हो जाएगा कि कौन भारतीय है और कौन नहीं। इसके पहले अय्यूब ने 25 जुलाई को चम्पा देवी पार्क में आयोजित निषाद समुदाय की रैली में योगी आदित्यनाथ को आतंकवादी कहा था। इस मामले में हियुवा ने कैंट थाने में गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया था।

बुधवार को दिए गए मीडिया को बयान के बाद भाजपा और हिन्दू संगठनों से जुड़े कार्यक्रताओं में उबाल आ गया। हिन्दू युवा वाहिनी के प्रदेश अध्यक्ष के नेतृत्व में गुरुवार को हियुवा ने सबसे पहले कचहरी चौराहे पर अय्यूब का पुतला फूंका। यहां से मोटरसाइकिल जुलूस निकालकर बक्शीपुर स्थित पीस पार्टी के कार्यालय पर पहुंचे, लेकिन यहां मौजूद भारी फोर्स ने कार्यकर्ताओं को पार्टी कार्यालय तक पहुंचने से रोक लिया। इसके बाद कार्यकर्ता डीएम कार्यलय पर पहुंचे और ज्ञापन सौंपा।

डॉ. अय्यूब हिन्दुओं और मुसलमानों के बीच दूरियां पैदा करना चाहते हैं

सुनील सिंह ने कहा कि डॉ. अय्यूब हिन्दुओं और मुसलमानों के बीच दूरियां पैदा करना चाहते हैं। वे अनर्गल बयानबाजी कर हिन्दू समाज को और मुस्लिम समाज को आपस में लड़ने के लिए प्रेरित कर रहे हैं। डॉ. अय्यूब ने हिन्दू समाज के संरक्षक और पीठाधीश्वर के विरूद्ध फिर से गलत बयानी की है। उनके खिलाफ एक और मुकदमा दर्ज कर उनकी फ़ौरन गिरफ्तारी की जाए। पीस पार्टी के प्रदेश सचिव जफ़र अली जिप्पू ने कहा कि हमारी ताकत को कम न समझें। हिन्दू युवा वाहिनी हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष को जान से मारने की धमकी और गला काटने की धमकी दे रही है। हम और हमारे संगठन से जुड़े अन्य संगठन ऐसी साम्प्रदायिक ताकतों को मुंहतोड़ जवाब देने में सक्षम हैं।

Courtesy: Bhaskar.com

Categories: Politics, Regional

Related Articles