दलितों के विरोध के बीच बीजेपी ने रद्द किया अमित शाह का आगरा दौरा

दलितों के विरोध के बीच बीजेपी ने रद्द किया अमित शाह का आगरा दौरा

681955208

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के अध्यक्ष अमित शाह का आगरा दौरा दलित जाति के लोगों द्वारा किए जा रहे विरोध प्रदर्शन के बाद रद्द हो गया है। यह दौरा 31 जुलाई को होना था। इसके कैंसल होने के बारे में शुक्रवार (29 जुलाई) को पता लगा। अमित शाह वहां पर बौद्ध भिक्षु और पूर्व सांसद धामा विरियो की रैली में जाने वाले थे। यह धम्म चेतना यात्रा यूपी के उन जगहों पर निकाली जाने वाली थी जहां पर दलित और ओबीसी लोग ज्यादा रहते हैं। इस रैली में शाह 2017 में होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए सपोर्ट जुटाने के लिए आने वाले थे। लेकिन दलित समूहों और बहुजन समाज पार्टी के लोगों द्वारा किए जा रहे विरोध प्रदर्शन की वजह से अमित शाह के दौरे को रद्द कर दिया गया।

यह यात्रा अखिल भिक्षु महासंघ द्वारा की जा रही है। इसका नेतृत्व 87 साल के विरियो कर रहे हैं। माना जा रहा है कि यात्रा अक्टूबर के महीने में लखनऊ पहुंच जाएगी। वह इसका आखिरी पड़ाव है। समापन कार्यक्रम में पीएम नरेंद्र मोदी के पहुंचने की बात भी कही जा रही है। इस यात्रा को 24 अप्रैल को वाराणसी से शुरू किया गया था। तब गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने इस रैली को हरी झंडी दिखाई थी।

दिखाए जा सकते थे काले झण्डे: पार्टी के मुताबिक, दौरा इसलिए रद्द किया गया क्योंकि विरोध प्रदर्शन कर रहे लोगों द्वारा काले झण्डे फहराए जाने का खतरा था। इससे पहले 24 जुलाई को कुछ दलित और जाटव लोगों ने अलीगढ़ में यात्रा का विरोध भी किया था। यह विरोध यात्रा में मौजूद बीजेपी के लोगों को देखकर था। इसके बाद बौद्ध भिक्षुओं ने बीजेपी के नेता और कार्यकर्ताओं को वहां से जाने के लिए बोला था।

Courtesy-Jansatta

Categories: Politics
Tags: Amit Shah, BJP, Dalits