जानिए, बॉक्‍सर मैरीकॉम ने राज्‍य सभा में ऐसा क्‍या कहा कि मेजें थपथपाकर समर्थन करने लगे सांसद

जानिए, बॉक्‍सर मैरीकॉम ने राज्‍य सभा में ऐसा क्‍या कहा कि मेजें थपथपाकर समर्थन करने लगे सांसद

Mary-Kom-620x400

संसद के मॉनसून सत्र के दौरान राज्‍य सभा में मंगलवार को अनूठा नजारा देखने को मिला। अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त महिला मुक्केबाज मैरीकॉम ने राज्यसभा में आज ओलंपिक खेलों के लिए बजट बढ़ाए जाने की आवश्यकता जताई और ओलंपिक खिलाड़ियों के समक्ष आने वाली परेशानियों का उल्लेख किया। पांच बार की विश्व चैंपियन मैरीकॉम ने प्रश्नकाल के दौरान अपना पहली बार प्रश्न पूछते ओलंपिक दल को बधाई दी और उम्मीद जताई कि दल में शामिल खिलाड़ी देश को पदक दिलाएंगे। मैरीकॉम ने ओलंपिक खेलों के लिए बजट बढ़ाए जाने की आवश्यकता जताते हुए युवा एवं खेल कार्यक्रम मंत्री विजय गोयल से जानना चाहा कि इन खेलों के लिए बजट कैसे बढ़ाया जा सकता है।

वर्ष 2012 के ओलंपिक में मुक्केबाजी में कांस्य पदक जीतने वाली मैरीकॉम ने खिलाड़ियों की समस्याओं को उठाते हुए कहा कि ओलंपिक खिलाड़ियों को बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। उन्हें प्रशिक्षण के दौरान सही खाना नहीं मिलता और खाना समय पर भी नहीं मिलता। उनके पूरक सवाल के जवाब में गोयल ने कहा कि इस बार सरकार ने ओलंपिक खिलाड़ियों का पूरा ध्यान रखा है और उन्हें किसी तरह की परेशानी नहीं होने दी। सांसदों ने मैरीकॉम की बात का मेजें थपथपाकर समर्थन किया।

मंत्री ने कहा कि रिओ ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व कर रहे सभी 119 खिलाड़ियों के प्रशिक्षण पर 30 लाख से लेकर एक करोड़ रच्च्पये तक खर्च किए गए हैं। प्रत्येक खिलाड़ी को विशेष प्रशिक्षण दिया गया है। उन्होंने कहा कि 2020 में तोक्यो में होने वाले अगले ओलंपिक के लिए तैयारियां अभी से शुरू कर दी गई हैं। गोयल ने कहा कि ओलंपिक खेलों के लिए वित्त मंत्रालय, सीएसआर और प्रवासी भारतीयों की मदद जैसे कदमों से बजट बढ़ाने की कोशिश की जाएगी।

Courtesy-Jansatta

Categories: Politics

Related Articles