हिरण शिकार केस में खत्म नहीं हुईं सलमान की मुश्किलें, निर्णय को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देगी राजस्थान सरकार

हिरण शिकार केस में खत्म नहीं हुईं सलमान की मुश्किलें, निर्णय को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देगी राजस्थान सरकार

राजस्थान उच्च न्यायालय द्वारा बॉलीवुड अभिनेता सलमान खान को वर्ष 1998 में जोधपुर में चिंकारा के शिकार संबंधी दो मामलों में बरी करने के फैसले को प्रदेश सरकार उच्चतम न्यायालय में चुनौती देगी।

SalmanKhanराजस्थान हाई कोर्ट ने 25 जुलाई को हिरण शिकार केस में सलमान खान को बरी किया है। राजस्थान हाई कोर्ट ने 25 जुलाई को हिरण शिकार केस में सलमान खान को बरी किया है।

राजस्थान उच्च न्यायालय द्वारा बॉलीवुड अभिनेता सलमान खान को वर्ष 1998 में जोधपुर में चिंकारा के शिकार संबंधी दो मामलों में बरी करने के फैसले को प्रदेश सरकार उच्चतम न्यायालय में चुनौती देगी। राजस्थान के संसदीय कार्य एवं विधि मंत्री राजेंद्र राठौड़ ने मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में आज यहां हुई मंत्रिमंडल की बैठक के बाद संवाददाताओं से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने एक प्रश्न के जवाब में कहा कि सरकार सलमान खान के मामले में गुण अवगुण पर अवलोकन कर रहीं है और सरकार ने न्यायालय के फैसले को चुनौती देने का मन बना लिया है।

गौरतलब है कि राजस्थान उच्च न्यायालय ने गत 25 जुलाई को दिये गये फैसले में भवाद और मथानिया में चिंकारा के शिकार संबंधी दो मामलों में सजा के खिलाफ सलमान की याचिका को स्वीकार कर उन्हे दोनों मामलों में बरी कर दिया था।

सलमान खान के खिलाफ 26 और 27 सितंबर, 1998 में भवाद गांव में दो चिंकारा और 28 और 29 सितंबर, 1998 में मथानिया (घोड़ा फार्म) में एक चिंकारा के शिकार के संबंध में वन्यजीव संरक्षण अधिनियम की धारा 51 के तहत मामले दर्ज किए गए थे। निचली अदालत (सीजेएम) ने सलमान खान को दोनों मामलों में दोषी ठहराते हुए 17 फरवरी 2006 को एक साल और 10 अप्रैल, 2006 को पांच साल के कारावास की सजा सुनाई थी।

 

 

Courtesy: Jansatta

Categories: India

Related Articles