कई देशों में दि‍खा चुकी हैं हॉकी का जादू, अब रि‍यो ओलंपि‍क में मचाएंंगी धमाल

कई देशों में दि‍खा चुकी हैं हॉकी का जादू, अब रि‍यो ओलंपि‍क में मचाएंंगी धमाल

preeti-new_1470136029

गोरखपुर. इंडि‍यन वुमेंस हॉकी प्‍लेयर यूपी की प्रीति‍ दुबे ओलंपि‍क में धमाल मचाने रि‍यो पहुंची हैं। वे हॉकी को पूजा और भारत को मां कहती हैं। अपने खेल का जादू वे कई देशों में दि‍खा चुकी हैं। उनकी पैशन और मेहनत का ही कमाल है कि‍ वे गोरखपुर रेलवे कॉलोनी जैसी छोटी जगह से नि‍कलकर आज इंटरनेशनल प्‍लेयर बन गईं। इस बार भी वे रक्षाबंधन में शामि‍ल नहीं हो सकेंगी। इन देशों में दिखा चुकी हैं हॉकी का जादू

– प्रीति ने दो साल में कई देशों का दौरा कि‍या है। वे साउथ एशियन गेम्स के लि‍ए नेपाल गई थीं। वहां पहला गोल दागकर 1 लाख रुपए का इनाम हासिल किया था।
– इसके साथ ही वे अर्जेंटीना, नीदरलैंड, दक्षिण अफ्रीका, न्यूजीलैंड, चीन और ऑस्ट्रेलिया में अपनी स्‍टि‍क का जादू दि‍खा चुकी हैं।
– गुवाहाटी में हुए साउथ एशियन गेम्स में स्वर्ण पदक विजेता टीम की सदस्य रहीं।
– चीन में 2015 में हुए सातवें जूनियर एशिया कप में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व किया।

कहां सीखा हॉकी

– वे गोरखपुर के खजनी इलाके के भेउसा की रहने वाली हैं।
– उनकी फैमि‍ली पूर्वोत्तर रेलवे की बौलिया रेलवे कॉलोनी में रहता है।
– शहर के प्राइमरी विद्यालय में पांचवीं तक की पढ़ाई की।
– छठी से आठवीं तक वीर बहादुर सिंह स्पोर्ट्स कॉलेज में हॉकी सीखा।
– इसके बाद वे ग्वालियर की महिला एकेडमी में चली गईं।
– इस समय वे ग्वालियर के किडीज कॉर्नर स्कूल से इंटर की स्‍टूडेंट हैं।
– बचपन से ही हॉकी से लगाव रखने वाली प्रीति 2014 में भारतीय जूनियर महिला हॉकी टीम की सदस्य बनीं।
– इसके बाद नवंबर 2014 में उन्हें सीनियर टीम में चुना गया।

Courtesy: Bhaskar.com

Categories: India, Regional, Sports

Related Articles