इस्लामाबाद में राजनाथ सिंह का विरोध हुआ, प्रदर्शनकारी आतंकियों को पाक ने समाजसेवी बताया

rajnath-singh2-580x395

नई दिल्ली\इस्लामाबाद: आतंक को लेकर पाकिस्तान का दोहरा रुख फिर सामने आया है. गृहमंत्री राजनाथ सिंह इस्लामाबाद में हैं. उनके विरोध में हाफिज सईद जैसे आतंकी के लोग प्रदर्शन पर बैठे तो पाकिस्तान सरकार ने राजनाथ सिंह को सुरक्षा के लिए 19 किलोमीटर की दूरी तय करने के लिए हेलिकॉप्टर में बिठा दिया लेकिन आतंक के समर्थकों को नहीं खदेडा. पाकिस्तान सरकार उन्हें समाजसेवी की नजर से देख रही है.

rajnath-singh3

इस्लामाबाद में पाकिस्तान सरकार गृह मंत्री राजनाथ सिंह को लेकर इतनी मेहरबान हुई कि इस्लामाबाद एयरपोर्ट से सरीना होटल पहुंचाने के लिए हेलिकॉप्टर में उन्हें बिठा दिया.

कार से 19 किलोमीटर की दूरी तय करने में मुश्किल से 20-22 मिनट लगते हैं लेकिन पाकिस्तान में नवाज शरीफ सरकार ने राजनाथ सिंह के लिए हेलिकॉप्टर का इंतजाम किया.

बात सिर्फ हेलिकॉप्टर से घूमाने की होती तो बात आई गई हो भी जाती लेकिन पाकिस्तान ने इसके लिए दलील ये दी कि सामाजिक संगठन और समाजसेवियो ने सार्क देशों के गृह मंत्रियों के सम्मेलन के विरोध में प्रदर्शन का आयोजन किया है.

rajnath-singh

कौन हैं ये सामाजिक संगठन और कौन हैं ये समाजसेवी

राजनाथ सिंह के सामने इस्लामाबाद में दुनिया के खूंखार आतंकवादियों में से एक हाफिज सईद, हिज्बुल मुजाहिदीन, यूनाइटेड जेहाद काउंसिल जैसे आतंकी संगठन के लोग प्रदर्शन करने बैठे थे. प्रदर्शन करने वालों में हाफिज सईद का संगठन भी था जिसने राजनाथ सिंह के पाकिस्तान आने से रोकने की मांग की थी.

आपको बता दें कि जम्मू एवं कश्मीर में बढ़ी हिंसा की पृष्ठभूमि में यह प्रदर्शन हुआ है. इस हिंसा की वजह से दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया है. आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी के मारे जाने के बाद घाटी में शुरू हिंसा के मौजूदा दौर में 50 लोगों की मौत हुई है और तीन हजार से अधिक घायल हुए हैं.

वानी को पाकिस्तान ने शहीद घोषित किया है, जबकि भारत ने उसे आतंकी कहा है. यूनाइटेड जिहाद काउंसिल का प्रमुख सईद सलाहुद्दीन भी भारतीय मंत्री के पहुंचने के विरोध में इस्लामाबाद में धरने का आयोजन कर रहा है.

Courtesy: ABP News

Categories: India, International, Politics