बुलंदशहर गैंगरेप: शीला दीक्षि‍त ने कहा- पीड़ि‍त बच्‍ची की पढ़ाई का खर्च उठाएगी कांग्रेस

बुलंदशहर गैंगरेप: शीला दीक्षि‍त ने कहा- पीड़ि‍त बच्‍ची की पढ़ाई का खर्च उठाएगी कांग्रेस

mrt_1470300988

गाजियाबाद. बुलंदशहर गैंगरेप कांड को लेकर यूपी के मंत्री आजम खान के बयान से पीड़ित फैमि‍ली बेहद खफा है। पीड़िता के पिता ने कहा कि आजम खान को बोलने की तमीज नहीं है। यदि उनसे मुख्यमंत्री आकर मिलें तो वह कहेंगे कि‍ आजम खान को अपनी टीम से निकाल दें। अखि‍लेश यादव ने कहा है कि‍ सरकार सीबीआई जांच के लि‍ए तैयार है। गुरुवार को पीड़ि‍त फैमि‍ली से मि‍लने शीला दीक्षि‍त भी पहुंचीं। उन्‍होंने कहा कि‍ पीड़ि‍त बच्ची की पढ़ाई और इलाज का पूरा खर्च कांग्रेस पार्टी देगी। हालांकि, उन्‍हें पब्‍लिक का विरोध झेलना पड़ा। शीला दीक्षि ने और क्या कहा

– गुरुवार की सुबह करीब 11 बजे दिल्ली की पूर्व सीएम और वर्तमान में यूपी में कांग्रेस की सीएम कैंडि‍डेट शीला दीक्षित पीड़ि‍त फैमि‍ली के खोड़ा स्‍थि‍त घर पहुंचीं।

– उनके साथ कांग्रेस नेता जि‍ति‍न प्रसाद और संजय सि‍ंंह भी थे।

– उन्‍होंने पीड़ित परिवार को भरोसा दिलाया कि न्याय की लड़ाई में कांग्रेस उनके साथ है।

– उन्‍होंने कहा कि बच्ची की पढ़ाई और उसके उपचार का पूरा खर्च पार्टी उठाएगी।

– शीला दीक्षित ने कहा कि यूपी में जंगलराज कायम है।

– अपराधी महिलाओं को रेप का शिकार बना रहे हैं।

– उन्होंने कहा कि यूपी सरकार को तत्काल बर्खास्त कर यहां राष्ट्रपति शासन लागू किया जाना चाहिए।

झेलना पड़ा विरोध

– शीला का यहां पब्लिक का विरोध भी झेलना पड़ा।

– लोगों ने शीला वापस जाओ के नारे तक लगा दिए।

– हालांकि बाद में प्रतिनिधि मंडल ने पीड़ित परिवार से बातचीत की, उन्हें आश्वस्‍त किया कि कांग्रेस आपके साथ है।

क्या करोगी परिवार के लिए

– कांग्रेस प्रतिनिधि मंडल के पहुंचते ही लोगों ने एक टुक जवाब देते हुए कहा कि अब आप लोग आए है। आप क्या करेंगे।

– बता दें कि इससे पहले भाजपा का प्रतिनिधि मंडल भी पीड़ित परिवार से मिल चुका है।

– वहीं, पीड़ित परिवार भी स्पष्ट कह चुका है जो भी कहा जाए मीडिया के सामने।

– हालांकि, शीला ने पीड़ित परिवार की हर संभव मदद करने के अलावा परिवार जहां कहेगा वहां उनके बच्चों का दाखिला कराया जाएगा। यही नहीं कानूनी रूप से भी परिवार की मदद की जाएगी।

पीड़ि परिवार ने क्या कहा

– पीड़ित परिवार ने इस दौरान फिर दोहराया कि घटना में शामिल सभी बदमाश जल्द गिरफ्तार हों।

– ये भी दोहराया कि बदमाशों को सजा देने का हक उन्हें ही दिया जाए।

अखिलेश यादव ने क्या कहा

बुलंंदशहर की घटना शर्मनाक और दुखद है। फास्‍ट ट्रैक कोर्ट के जरि‍ए जल्‍द सुनवाई करवाएंगे।

– बीजेपी के पास वि‍कास का मुद्दा नहीं बचा, वे लोग इस मामले में कमरे में बैठकर राजनीति‍ कर रहे हैं।

– यदि‍ वे लोग सीबीआई जांच चाहते हैं तो हमें कोई आपत्‍ति‍ नहीं है। हम भी तैयार हैं।

– हालांकि‍ यूपी सरकार हर हाल में पीड़ि‍त फैमि‍ली को न्‍याय दि‍लवाएगी।

गुस्से में है पीड़ित फैमिली

– बुलंदशहर गैंगरेप कांड को लेकर आजम खान के बयान से पीड़ित फमि‍ली बेहद गुस्से में है।
– घटना के सात दिन बाद भी उन लोगों की दि‍माग में हादसे का सीन घूम रहा है।
– ऐसे में कैबिनेट मंत्री आजम खान के बयान से उनके जख्म ताजा हो गए हैं।
– अपना दर्द बयां करते हुए पीड़ित फैमि‍ली की आंखें नम हो गईं।

सीएम से मिलने का है इंतजार

– पीड़ित के पिता ने कहा कि सीएम अखिलेश यादव से मिलने का उन्हें और उनकी फैमि‍ली को इंतजार है।
– सीएम अखिलेश उनसे मिलेंगे तो उनसे जरूर पूछेंगे कि आजम खान जैसे मंत्री उन्होंने अपने मंत्रि‍मंडल में क्यों रखा है।
– उन्‍होंने कहा कि मैं एक टैक्‍सी ड्राइवर हूं, मुझे पता है कि किस तरह बात करनी चाहिए।

आजम को बोलने की तमीज नहीं

– आजम पढ़े-लिखे हैं, मंत्री हैं, लेकिन बोलने की तमीज नहीं है।
– गम में डूबे और गुस्से में भरे पिता ने कहा कि आजम खान के घर में भी मां-बेटी होंगी। उन्हें लेकर हमने तो कोई गलत बात नहीं कही।
– पीड़ित पिता ने कहा कि कम से कम ऐसा बयान देने से पहले या घटना को राजनीति की साजिश का हिस्सा बताने से पहले एक बार हमसे बात तो कर लेते।

सीएम के यहां जाकर मिलने की पेशकश ठुकराई

– सीएम अखिलेश यादव के आने की चर्चा पिछले तीन दिनों से मोहल्ले में है, लेकिन अखिलेश अब तक नहीं आए।
– पीड़ित के पिता ने कहा कि समाजवादी पार्टी के स्थानीय नेताओं ने परिवार से संपर्क किया। उन्हें सीएम अखिलेश यादव से मिलने के लिए चलने को कहा।
– लेकिन उन्होंने सपा नेताओं की इस पेशकश को ठुकरा दिया है।
– पीड़ित पिता का कहना है कि‍ मरने वाले व्यक्ति के घर सांत्वना व्यक्त करने लोग जाते हैं। मरने वाले व्यक्ति का परिवार लोगों के घर नहीं जाता।
– मैं तो अभी जिंदा हूं। सीएम अखिलेश मुझसे मिलने क्यों नहीं आ सकते?

क्या है पूरी घटना

– पीड़ित परिवार ने बताया, “29 जुलाई की रात वे सभी नोएडा से शाहजहांपुर जा रहेे थेे। एनएच-91 पर दोस्तपुर गांव के पास डकैतों ने सड़क पर एक लोहे की रॉड को फेंक दिया था। हमें लगा कि कार का एक्सेल टूट गया है, इसलिए कार को सड़क किनारे रोका।”
– “तभी झाड़ियों से करीब एक दर्जन हथियारबंद डकैत बाहर निकल आए। ये लोग परिवार को कार समेत हाईवे से करीब 50 मीटर दूर खेतों में ले गए और बंधक बनाकर कैश, लाखों रुपए का सामान और महिलाओं के जेवर लूट लिए।”
– कार में बैठी परिवार की महिला और उसकी बड़ी बेटी से गैंगरेप किया।
– कार में एक महिला, उसकी दो बेटियां और परिवार के तीन पुरुष मौजूद थे।

और पढ़ें: 

बुलंदशहर गैंगरेप पीड़ितों की दर्द भरी दास्तां : खून से लथपथ थी बेटी, डॉक्टर ने कहा झूठ बोल रहे हो

बुलंदशहर गैंगरेप के दौरान हाईवे से गुजरी थी पुलिस, 100 नंबर से नहीं आया कोई जवाब

बुलंदशहर: पीड़ि‍ता के पिता ने कहा- आरोपियों को मिले फांसी वरना कर लूंगा सुसाइड

Courtesy: Bhaskar.com

Categories: Crime, Politics, Regional

Related Articles