सरहद पर गूंजेगी आशा भोसले की आवाज़

सरहद पर गूंजेगी आशा भोसले की आवाज़

Asha-Bhosle-580x395नई दिल्ली: आज़ादी के 70 साल के जश्न को मनाने में मोदी सरकार कोई कमी रहने नहीं देना चाहती….और इसलिए इसमें देशभक्ति के साथ बॉलीवुड का भी तड़का लगाने की तैयारी हो रही है. एबीपी न्यूज़ को मिली जानकारी के मुताबिक़ सरकार बॉलीवुड के कई जानेमाने सितारों से बात कर रही है ताकि आज़ादी के इस जश्न में उनको भी शामिल किया जा सके.

सूत्रों के मुताबिक़ महान गायिका आशा भोसले और जाने माने गायक कुमार शानु ने इसमें भाग लेने पर अपनी सहमति भी दे दी है. आशा भोसले और कुमार शानु देश की अलग अलग सीमाओं पर जाकर लोगों और सैनिकों के बीच देशभक्ति के गीत सुनाएंगे. हालांकि अबतक ये तय नहीं हुआ है कि दोनों किस सीमा पर और किस दिन अपना कार्यक्रम पेश करेंगे. जानकारी के मुताबिक़ बॉलीवुड के सितारों के अलावा मोदी सरकार कुछ क्रिकेट खिलाड़ियों के संपर्क में भी है ताकि उन्हें भी इस जश्न का हिस्सा बनाया जा सके.

मोदी सरकार ने आज़ादी के 70 साल पूरे होने के अवसर को बड़े उत्सव के तौर पर मनाने का फ़ैसला किया है. 9 अगस्त से 23 अगस्त तक आयोजित होने वाले समारोह का नाम ‘ 70 साल आज़ादी, याद करो क़ुर्बानी ‘ रखा गया है. 9 अगस्त को भारत छोड़ो आंदोलन के 75 साल पूरे हो रहे हैं.

सूचना और प्रसारण मंत्री वेंकैया नायडु का कहना है कि पूरे समारोह को सरकार के चार मंत्रालय साथ मिलकर मनएंगे. नायडु के मुताबिक़ शिक्षा, रक्षा, सूचना प्रसारण और संस्कृति मंत्रालय मिलजुलकर समारोह की तैयारी कर रहे हैं. 9 तारीख़ को मुख्य समारोह मध्य प्रदेश के अलीराजपुर ज़िले के भाबरा ( अब चंद्रशेखर आज़ाद नगर ) नामक स्थान पर होगा जहां महान क्रांतिकारी चंद्रशेखर आज़ाद का जन्म हुआ था. यहां ख़ुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समारोह में शरीक़ होंगे. इसके अलावा सूचना और प्रसारण मंत्री वेंकैया नायडु मुंबई के उसी टैंक मैदान में जाएंगे जहां भारत छोड़ो आंदोलन की नींव रखी गई थी. वैसे इस समारोह की असली शुरूआत 13 अगस्त से यानि संसद के मॉनसून सत्र के समाप्त होने के अगले दिन से शुरू होगी.

इस उत्सव के दौरान मोदी सरकार के सभी मंत्री देश के कम से कम उन दो स्थानों का दौरा करेंगे जो किसी न किसी रूप में आज़ादी के आंदोलन से जुड़े रहे हैं…. इनमें यरवदा और सेल्युलर जेल से लेकर जालियांवाला बाग़ और महात्मा गांधी के जन्म स्थान पोरबंदर जैसे महान नेताओं के जन्म स्थान शामिल हैं. जश्न की तैयारी के लिए सूचना और प्रसारण मंत्री वेंकैया नायडु की अध्यक्षता में सरकार ने 8 सदस्यीय एक कमिटी भी बनायी है .

इसके अलावा भारतीय जनता पार्टी के सभी सांसद 15 अगस्त से 22 अगस्त तक तिरंगा यात्रा भी करेंगे. कुछ दिनों पहले हुई बीजेपी संसदीय दल की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी सांसदों को मोटर साइकिल या साइकिल से अपने अपने क्षेत्र में तिरंगा यात्रा निकालने को कहा था. यात्रा के दौरान सांसदों को देशभक्ति के गाने भी पार्टी की ओर से मुहैया करवाए जाएंगे.

Courtesy: ABPNews

Categories: India

Related Articles