कांग्रेसमय हो रहा उत्तर प्रदेश ?

कांग्रेसमय हो रहा उत्तर प्रदेश ?

Sonia Gandhi Kashi Road Show

CP_Jansampark_Varanasi_UP_02_08_16_12
CP_Jansampark_Varanasi_UP_02_08_16_08
CP_Jansampark_Varanasi_UP_02_08_16_13
CP_Jansampark_Varanasi_UP_02_08_16_02
CP_Jansampark_Varanasi_UP_02_08_16_03
CP_Jansampark_Varanasi_UP_02_08_16_04
CP_Jansampark_Varanasi_UP_02_08_16_18
CP_Jansampark_Varanasi_UP_02_08_16_22
CP_Jansampark_Varanasi_UP_02_08_16_19
Loading image... Loading image... Loading image... Loading image... Loading image... Loading image... Loading image... Loading image... Loading image...

उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव को लेकर  कुछ समय पहले तक कांग्रेस को चार नम्बर की पार्टी बताया जा रहा था, कुछ तों कांग्रेस को विधान सभा चुनाव की दौड़ मे हीं नहीं मान नही रहे थे, अचानक ये माहौल कैसे बदलने लगा। सोनिया गांधी के रोड शो में भारी भीड़ उमड़ी, कांग्रेस के लिए भीड़ से ज्यादा खुशी की बात उसके कार्यकर्ता का जोश है। कांग्रेस का कार्यकर्ता उत्साहित नहीं था, लेकिन काशी के रोड शो को देखकर उसमें खासा उत्साह नज़र आया।

        29 तारीख  को लखनऊ में राहुल गांधी के कार्यकर्ता सम्मेलन को भी देखें तो बारिश के बावजुद लगभग 1 लाख कार्यकर्ता एक़ित्रत हुऐ और राहुल गांधी भी अपने कार्यकर्ता के साथ संवाद स्थापित करने में कामयाब दिखें, जब वो खुद कुर्सी को लेकर आगें बढ़े और जिस तरीके से शीला दीक्षित को साथ लेकर आए, वो सादगी लोगों को काफी पसंद आई।

RG_Workers Meet_Lucknow_UP

RG_Workers Meet_Lucknow_UP_29_07_16_15
RG_Workers Meet_Lucknow_UP_29_07_16_05
RG_Workers Meet_Lucknow_UP_29_07_16_04
RG_Workers Meet_Lucknow_UP_29_07_16_12
RG_Workers Meet_Lucknow_UP_29_07_16_06
RG_Workers Meet_Lucknow_UP_29_07_16_08
RG_Workers Meet_Lucknow_UP_29_07_16_09
RG_Workers Meet_Lucknow_UP_29_07_16_14
Loading image... Loading image... Loading image... Loading image... Loading image... Loading image... Loading image... Loading image...

केवल कांग्रेस का कार्यकर्ता ही नहीं Media भी अब कांग्रेस की बात कर रही है। चाहे Electronic Media हो या Print Media सभी जगह ये चर्चा हो रही है, जिस पार्टी को कोई दौड़ में नहीं मान रहा था या उसे चार नम्बर की पार्टी बता रहा था, अचानक उस पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ता में उत्साह कहां से आया।

News

अगर इसकी कड़ी हम शुरू सें जोड़ें, तो जिस प्रकार सें कांग्रेस आलाकमान ने सन्तुलित टीम उत्तर प्रदेश भेजी और उनका लखनऊ में भव्य स्वागत हुआ, तभी सें इसमें कड़ियां जुड़ने लगी, दूसरा बड़ा कारण प्रियंका गांधी भी रहीं, ये बात Media में छायी रहीं कि वो युपी की कमान संभालेंगी। इससे भी कार्यकर्ता उत्साहित हुआ।

दोनो कार्यक्रमों में प्रशान्त किशोर की रणनीति की छाप भी स्पष्ट नज़र आई जो कि काफी कारगर साबित हुई। अगर कांग्रेस इसी जोश के साथ आगे बढ़ती रही तो निश्चित रूप से बसपा और सपा को कांटे की टक्कर देगी।

 

Categories: India, Politics

Related Articles