बीजेपी सांसद ने हवन को बताया सूखे का समाधान, कहा- आग में घी डालने से ऑक्सीजन और जौ-तिल से हाइड्रोजन निकलता है

बीजेपी सांसद ने हवन को बताया सूखे का समाधान, कहा- आग में घी डालने से ऑक्सीजन और जौ-तिल से हाइड्रोजन निकलता है

virendra.singh_.bjp_.mp_-620x400

यज्ञ में डाला गया घी ऑक्सीजन में और अन्न हाइड्रोजन में बदल जाता है और दोनों साथ मिलकर पानी बनाते हैं। यूपी के भदोही से बीजेपी सांसद वीरेंद्र सिंह ने ये “वैज्ञानिक” तरीका शुक्रवार को लोक सभा में बताया। सिंह के अनुसार इसे अपनाकर सूखे से निपटा जा सकता है। टिकाऊ विकास के लक्ष्यों पर हो रही अल्पकालीन चर्चा में भाग लेते हुए सिंह ने सदन के सामने ये राय रखी।

सिंह ने कहा कि जब आखिरी बार सूखे पर चर्चा हुई थी तो उन्होंने बारिश कराने के लिए यज्ञ कराने का सुझाव दिया था। सिंह ने कहा कि उस समय उनपर प्रतिगामी होने का आरोप लगा था, लेकिन उनकी धारणा के पीछे वैज्ञानिक आधार है। अपनी बात को समझाते हुए सिंह ने कहा, “हवन कृषि उत्पादों से किया जाता है, जिसमें घी, दूध, जौ, तिल इत्यादि कृषि उत्पाद होते हैं। यहां विज्ञान के छात्र बैठे हुए हैं और ये वैज्ञानिक रूप से प्रमाणित हो चुका है कि जब अग्नि में घी डाला जाता है तो उससे 300 प्रतिशत ऑक्सिजन बनती है। विज्ञान के छात्र ये भी कहते हैं कि हाइड्रोजन के दो अणु और ऑक्सिजन का एक अणु मिलकर पानी बनाते हैं….”

सिंह ने आगे कहा कि मैं विज्ञान के छात्रों से कहता हूं कि घी से ऑक्सिजन बनता है और दूसरे कृषि उत्पाद से हाइड्रोजन और आप कहते हैं कि इन दोनों के मिलने से पानी बनता है। सिंह ने सदन में कहा कि भारत अपनी “महान संस्कृति और गौरवशाली परंपरा पर चलकर” विकास की राह पर आगे बढ़ सकता है। सिंह ने जोर दिया कि पश्चिमी संस्कृति की नकल से देश बर्बादी की तरफ बढ़ रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एमपीलैड का जिक्र करते हुए सिंह ने कहा, “भारत को विकास के पथ पर 56 इंच के सीने वाला व्यक्ति ही ले जा सकता है।”

Courtesy-Jansatta

Categories: Politics