#Rio: दीपा ने रचा इतिहास, पहली बार देश की जिमनास्ट ओलिंपिक के फाइनल में; टेनिस में उलटफेर-विलियम्स बहनें बाहर

#Rio: दीपा ने रचा इतिहास, पहली बार देश की जिमनास्ट ओलिंपिक के फाइनल में; टेनिस में उलटफेर-विलियम्स बहनें बाहर

deepa_1470619963

रियो डि जेनेरियो.रियो ओलिंपिक में भारत की जिमनास्ट दीपा कर्माकर वाल्ट इवेंट के फाइनल में पहुंच गई हैं। पहली बार देश की महिला जिमनास्ट इस मुकाम तक पहुंची है। वे 14 अगस्त को भारत के लिए मेडल जीतने वाली पहली भारतीय बन सकती हैं। वहीं, महिला हॉकी में भारत का जापान से मैच ड्रॉ रहा। देश को तब निराशा हाथ लगी, जब हमारी महिला तीरंदाजों की टीम भी दूसरे दौर में बाहर हो गई। उधर, वुमन टेनिस में बड़ा उलटफेर हुआ। वीनस और सेरेना विलियम्स की जोड़ी पहले राउंड में ही बाहर हो गई। उन्हें चेक रिपब्लिक की जोड़ी ने सीधे सेटों में 6-3, 6-4 से हरा दिया।दीपा ने रचा इतिहास

दीपा ने रियो के लिए रवाना होने से पहले ही कहा था कि वे भारत को मेडल दिलाएंगी। फाइनल रविवार 14 अगस्त को होगा।

– क्वालिफाइंग राउंड में दीपा का स्कोर 15.100 (फर्स्ट अटेम्प्ट) और 14.600 (सेकंड अटेम्प्ट) रहा। अमेरिका की सिमोन बाइल्स वाल्ट इवेंट में टॉप पर रहीं।

पिता बोले: कल दीपा का बर्थ डे है, मेडल सबसे बड़ा गिफ्ट होगा

– दीपा की कामयाबी पर उनके पिता दुलाल कर्माकर ने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि टेंशन की वजह से हम सो भी नहीं पा रहे थे। लेकिन अब बेहद खुश हैं। उम्मीद है बेहतर नतीजे मिलेंगे।
– दुलाल ने कहा- कल उसका बर्थ डे है। अगर वह मेडल जीतती है तो यह उसके लिए सबसे बड़ा बर्थ डे गिफ्ट है।

विलियम्स बहनें डबल्स से बाहर

– वुमन्स टेनिस डबल्स में हैरान कर देने वाला उलटफेर हुआ। मेडल की सबसे बड़ी दावेदार मानी जा रहीं विलियम्स बहनें (सेरेना और वीनस) पहले ही राउंड में हारकर बाहर हो गईं। इससे अमेरिका को मायूसी हाथ लगी है। विलियम्स बहनों को चेक रिपब्लिक की जोड़ी (लूसी सफारोवा और बारबोरा स्ट्रिकोवा) ने सीधे सेटों में 6-3, 6-4 से मात दे दी।

– हार के बाद सेरेना ने कहा- “हम इतना खराब खेले…? खुद पर ही यकीन नहीं होता।”

– बता दें कि अमेरिका की यह जोड़ी वुमन्स डबल्स की नंबर वन रैंकिंग पर काबिज है। एक महीने पहले ही विंबलडन में खिताब जीतने के बाद उनके पास 14 ग्रैंड स्लैम हो गए हैं।

जीततेजीतते हारी आर्चरी टीम

– आर्चरी में दीपिका कुमारी, बॉम्बायला देवी लेशराम और लक्ष्मीरानी माझी की तिकड़ी दूसरे दौर में पहुंचने के बाद हार गई।

– क्वार्टर फाइनल में उन्हें रूस की वुमन्स टीम ने 5-4 से हरा दिया। मुकाबले में चार सेट के बाद स्कोर 2-2 से बराबर रहा, जिसके बाद शूटऑफ का सहारा लिया गया।

– शूटऑफ में रूस ने 25 अंक जुटाए, जबकि भारतीय टीम 23 अंक ही जुटा सकी। इससे पहले भारतीय टीम ने कोलंबिया को प्री-क्वार्टर फाइनल में 5-3 से हराकर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई थी।

महिला हॉकी में भारत ने खेला ड्रॉ

– वुमन्स हॉकी के अपने पहले मैच में टीम इंडिया ने जापान के साथ 2-2 से ड्रॉ खेला। मैच में जापान ने पहले हाफ में ही 2-0 की शानदार बढ़त हासिल कर ली थी।

– निशिकोरी ने 15वें मिनट में गोल दागकर 1-0 की बढ़त बनाई। फिर 28वें मिनट में नाकाशिमा ने गोल कर बढ़त को दोगुना कर दिया। एक वक्त लग रहा था कि इंडियन वुमन टीम इस मैच को नहीं बचा पाएगी। लेकिन टीम ने शानदार वापसी की।
– रानी रामपाल ने 31वें मिनट में गोल कर स्कोर 1-2 किया और फिर 40वें मिनट में लिलिमा ने गोल कर स्कोर 2-2 से बराबर कर दिया। भारत का अगला मुकाबला अपने से कहीं मजबूत ब्रिटेन की टीम से होगा।

8 अगस्त को इन गेम्स में उतरेंगे इंडियन प्लेयर्स

– तीरंदाजी- अतानु दास

– पुरुष हॉकी- भारत vs जर्मनी
– महिला हॉकी- भारत vs ब्रिटेन
– निशानेबाजी- अभिनव बिंद्रा (10 मीटर एयर राइफल)
– निशानेबाजी- गगन नारंग (10 मीटर एयर राइफल)
– निशानेबाजी- कीनन चेनाई (ट्रैप)
– निशानेबाजी- मानवजीत संधू (ट्रैप)
– तैराकी- साजन प्रकाश (200 मी बटरफ्लाई)
– तैराकी- शिवानी (200 मी फ्री-स्टाइल)
– मुक्केबाजी- विकास कृष्णन (75 किग्रा)

कैसा रहा था पहला दिन?

– इससे पहले ओलिंपिक का पहला दिन भी भारत के लिए कुछ खास नहीं रहा था। केवल मेन्स हॉकी और रोइंग से अच्छी खबर आई थी।

Courtesy: Bhaskar.com

Categories: India, International, Sports