सच्ची घटना: शातिर मॉडल के गुनाह की वो कहानी जो आपके होश उड़ा देगी !

सच्ची घटना: शातिर मॉडल के गुनाह की वो कहानी जो आपके होश उड़ा देगी !

sacchi-ghatna-11

23 साल की वैशाली रजोरिया नाम की एक खूबसूरत मॉडल ने कई बड़े ब्रांड के लिए मॉडलिंग की है. लेकिन मॉडलिंग का धंधा मंदा पड़ा तो ये मॉडल गुनाह के सफर पर निकल पड़ी. इसने अपनी खबसूरती को हथियार बनाया और मदद के बहाने कई लोगों को अपने शातिर खेल का शिकार बना डाला. कैसे आईये हम आपको बताते हैं लोगों की मदद के बहाने जालसाजी का खेल खेलने वाली इस शातिर मॉडल के गुनाह की वो कहानी जो आपके भी होश उड़ा देगी.

sacchi-ghatna-6

रैंप पर अपने जलवे बिखरने वाली ये मॉडल अब पुलिस की गिरफ्त में है. वो इसलिए क्योंकि मदद के बहाने ये लोगों की आंखों में धूल झोंक कर उनके साथ कर रही थी ठगी. कई महिलायें भी इस मॉडल की शिकार बन चुकी हैं. इन सभी को मॉडल वैशाली रजोरिया ने मदद के बहाने ऐसा चकमा दिया कि ये भी चक्कर में पड़ गई और फिर इनके ही अकाउंट से इनके ही एटीएम कार्ड्स से वैशाली ने इनके पैसे निकाल लिए.

sacchi-ghatna-2

मॉडल वैशाली रजोरिया जितनी खूबसूरत है उतनी ही शातिर है. वो कार से चलती है. कार को बकायदा ड्राइवर चलाता है और वो कार के पीछे की सीट पर बैठती है. अच्छे कपड़े पहनती है. उसके इस हाईफाई स्टाइल को देखकर कोई भी इस बात का अंदाजा नहीं लगा पता था कि वो कार में बैठ कर ठगी का खेल खेलने के लिए निकलती थी.

sacchi-ghatna-12

दिल्ली के मुखर्जी नगर इलाके में रहने वाली महिलाओं के मुताबिक मॉडल वैशाली ने इनके अकाउंट में से किसी के 25 हजार निकाल लिए तो किसी के 40 हजार. इनकी आंखों के सामने ही शातिर मॉडल ने इन्हें धोखा दिया और इन्हें उसकी भनक भी नहीं लगी. दरअसल ये मॉडल बुजुर्ग महिलाओं और नौजवान लड़कों को अपना शिकार बनाती थी. ATM से पैसा निकलाने में उनकी मदद करने के बहाने उनके साथ फरेब करती थी और अपने इस फरेब के खेल को अंजाम देने के लिए इसने अलग अलग बैकों के कई एटीएम कार्ड्स अपने पास रखे हुए थे.

sacchi-ghatna-8

मॉडल वैशाली लोगों के अकाउंट से पैसे उड़ाने के लिए एटीएम के आसपास घूमती थी जैसे ही कोई बुजुर्ग महिला या फिर नौजवान लड़का एटीएम के अंदर दाखिल होता था वो भी उसके पीछे जाकर खड़ी हो जाती थी. उसके पास कई बैंकों के एटीएम कार्ड्स मौजूद होते थे जैसे ही उसके निशाने पर आई महिला या नौजवान एटीएम के अंदर अपना कार्ड्स डालता था और एटीएम मशीन कोई एरर बताती थी तो वो उनसे कहती थी. लगता है कुछ प्रॉब्लम है. लाईये मैं आपकी मदद कर देती हूं.

बुजुर्ग महिला और नौजवान लड़के उसके हुलिए को देख कर उसकी फितरत का अंदाजा नहीं लगा पाते थे और मदद के बहाने फेंके गए उसके जाल में फस जाते थे. इसके बाद वो अपने शिकार से एटीएम मशीन में दोबारा कार्ड्स डालने के लिए कहती थी और इसी दौरान वो उनका पासवर्ड देख लेती थी. एटीएम मशीन से जैसे ही कार्ड्स बाहर आता था तो वो उस कार्ड्स को फौरन लपक लेती थी और इसी दौरान वो अपने पास रखे कार्ड्स से अपने शिकार के कार्ड्स को बदल देती थी.

sacchi-ghatna-41

मॉडल वैशाली के पास कई बैंक के कार्ड्स मौजूद रहते थे. ये जिसे अपना शिकार बनाती थी उसे उसी बैंक का कार्ड्स देती थी जिस बैंक के कार्ड्स का इस्तेमाल उसका शिकार बना हुआ शख्स करता था. इसलिए लोगों को इस बात की भनक भी नहीं लगती थी कि वैशाली ने मदद के बहाने उनके कार्ड को अपने पास रखे कार्ड से बदल दिया है. इसके बाद शुरू होता था इसका असली खेल. जैसे ही इसका शिकार बना शख्स वहां से जाता था ये उसका कार्ड एटीएम में डालती थी. उसके पासवर्ड का इस्तेमाल कर उसके एकाउंट से पैसे निकाल लेती थी

sacchi-ghatna-52

पुलिस ने इस शातिर मॉडल के पास से कई बैंकों के एटीएम कार्ड्स बरामद किए हैं. पुलिस के मुताबिक ये सभी उन लोगों के कार्ड्स हैं जिन्हें म़डल वैशाली रजोरिया ने अपने शातिर खेल का शिकार बनाया. ये अपने एक शिकार का कार्ड दूसरे को देकर धोखा देती थी और दूसरे के कार्ड से तीसरे की आंखों में धूल झोंकती थी. दिल्ली के मुखर्जी नगर की रहने वाली एक बुजुर्ग महिला के साथ भी वैशाली ने ऐसा ही किया.

sacchi-ghatna-7

इस बुजुर्ग महिला के अकाउंट से वैशाली ने 25 हजार रुपए निकाल लिए. शातिर मॉडल की ठगी का शिकार बनने के बाद महिला ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करवा दी और खुद इसे पकड़ने के लिए मुखर्जी नगर के उस एटीएम पर नजर रखने लगीं जहां वैशाली ने इनकी आंखों में धूल झोंकी थी और एक दिन ये शातिर मॉडल उन्हें उसी एटीएम सेंटर के बाहर घूमती हुई दिख गई.

sacchi-ghatna-10sacchi-ghatna-1पुलिस ने फौरन इसे धरदबोचा. इसके पकडे जाने के बाद पुलिस ने इसके गुनाह मे भागीदार इसके ड्राइवर को भी गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने जब इस मॉडल के रिकॉर्ड खंगाले तो पता चला इस पर पहले से भी इसी तरह की धोखाधड़ी के पांच मामले दर्ज हैं. पुलिस के मुताबिक हेराफेरी के धंधे में इसका पार्टनर बने इसके ड्राइवर और इसके बीच ठगी के रुपयों में 50-50 की पार्टनरशिप थी. पकड़े जाने के बाद इसने खुलासा किया कि इसे मॉडलिंग के लिए अपना पोर्टपोलियों बनवाना था इसलिए इसने ठगी के धंधे से पैसा कमाने की साजिश रची.

इसने इस काम के लिए गूगल की मदद ली. फिलहाल लोगों को ठगने वाली ये शातिर मॉडल पुलिस की गिरफ्त में है. पुलिस ने इसके पास से कई बैंकों के एटीएम कार्डस के अलावा 40 हजार रुपए भी बरामद किए हैं. इसके पकड़े जाने के बाद इसके शिकार बने कई लोग सामने भी आ गए हैं. और अब पुलिस इसे इसके किए की सजा दिलाने की तैयारी कर रही है.

Courtesy: ABPNews

 

 

Categories: Crime

Related Articles