भारतीय जिमनास्‍ट दीपा कर्मकार को मिल सकता है सर्वोच्‍च खेल सम्‍मान ‘खेल रत्न’, अंतिम निर्णय कल

deepa_1470619963

नई दिल्‍ली: भारतीय जिमनास्‍ट दीपा कर्मकार को देश का सर्वोच्‍च खेल सम्‍मान ‘खेल रत्न’ मिल सकता है. इस बारे में अंतिम निर्णय कल (गुरुवार को) लिया जाएगा.

दीपा पहली भारतीय हैं, जिन्‍होंने ओलिंपिक खेलों में जिम्नास्टिक प्रतियोगिता के लिए क्वालीफाई किया. दीपा इस प्रतियोगिता में कांस्‍य पदक से चूक गई थीं.

सूत्रों के अनुसार, दीपा के अलावा, शूटर जीतू राय भी खेल रत्‍न के दावेदार माने जा रहे हैं. जीतू भी रियो ओलिंपिक में मेडल जीतने से चूक गए थे.

दीपा से बचपन के ट्रेनर रहे बिस्‍वेश्‍वर नंदी को भी द्रोणाचार्य अवार्ड मिलने की संभावना है. दोनों ने बाधाओं के चलते काफी संघर्ष किया.

…..दीपा कर्मकार मामूली अंतर से मेडल जीतने से चूकीं
उल्‍लखेनीय है कि रियो ओलिंपिक एरेना में जिम्नास्टिक्स के वॉल्ट फाइनल मुकाबले में भारत की दीपा कर्मकार मामूली अंतर से मेडल जीतने से चूक गईं. उनका औसत स्कोर 15.066 रहा. जिम्नास्टिक की हर विधा में महारत रखने वाली दो बार की ओलिंपिक पदक विजेता अमेरिका की सिमोन बाइल्स (औसत स्कोर- 15.966) ने स्वर्ण पदक जीता. दूसरे नंबर पर मारिया पसेका (औसत स्कोर- 15.253) रहीं. उनको रजत पदक मिला और तीसरे नंबर पर स्विट्जरलैंड की ग्विलिया स्टैंग्रूबर (औसत स्कोर- 15.216) रहीं. उन्होंने कांस्य पदक हासिल किया……..
ऐसे पहुंचीं थीं फाइनल में
दीपा ने वॉल्ट में बेहद कठिन माने जाने वाले प्राडुदुनोवा को सफलतापूर्वक पूरा किया था. वह रियो-2016 में ऐसा करने वाली एकमात्र जिम्नास्ट रहीं. हालांकि अमेरिका की सिमोन बाइल्स ने प्रॉडुनोवा नहीं करने के बावजूद फाइनल में जगह बना ली.

Categories: Sports

Related Articles