ई-कॉमर्स कंपनी AskMe पर लगा ताला, वेबसाइट पर नए ऑर्डर बंद, 4000 कर्मचारियों का भविष्‍य संकट में

ई-कॉमर्स कंपनी AskMe पर लगा ताला, वेबसाइट पर नए ऑर्डर बंद, 4000 कर्मचारियों का भविष्‍य संकट में

download

ई-कॉमर्स कंपनी AskMe ने अपना कामकाज बंद कर दिया है। इसकी वजह से कंपनी के 4000 कर्मचारियों का भविष्‍य अधर में लटक गया है। कई मीडिया रिपोर्ट्स में यह दावा किया गया है। हालांकि, कंपनी की तरफ से इस बात की आधिकारिक पुष्‍ट‍ि अबतक नहीं हुई है। इस फैसले की वजह कंपनी के सामने पैदा हुई गंभीर नगदी संकट को बताया जा रहा है।

कंपनी का मुख्‍य दफ्तर गुड़गांव में है। इसकी वेबसाइट फिलहाल तो लाइव है, लेकिन कोई नया ऑर्डर प्‍लेस नहीं किया जा पा रहा। मीडिया रिपोर्ट्स में कंपनी के करीबी सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि कंपनी के प्रमुख निवेशक एस्‍ट्रो होल्‍ड‍िंग्‍स का अचानक हाथ खींच लेना इस संकट की वजह बना। बीते महीने ही मलेशियाई अरबपति आनंद कृष्‍णन की अगुआई वाली कंपनी एस्‍ट्रो होल्‍ड‍िंग्‍स ने आस्‍कमी ग्रुप से अलग हो गई थी। एस्‍ट्रो की कंपनी में 97 फीसदी हिस्‍सेदारी थी। इससे पहले, एस्‍ट्रो होल्‍ड‍िंग्‍स और कंपनी के छोटे निवेशकों के बीच लंबी लड़ाई चली। एस्‍ट्रो होल्‍ड‍िंग्‍स ने आखिरी बार पिछले महीने 150 करोड़ रुपए का नगद निवेश कंपनी में किया था।

आस्‍कमी ने हाल ही में मिनिस्‍ट्री ऑफ कॉरपोरेट अफेयर्स को चिट्ठी लिखी थी। इसमें यह सुनिश्‍च‍ित करने के लिए कहा गया था कि एस्‍ट्रो होल्‍ड‍िंग्‍स बिना अपनी देनदारी चुकाए और व्‍यावसायिक प्रतिबद्धता को पूरी किए देश न छोड़ पाए। आस्‍कमी डॉट कॉम की शुरुआत एक क्‍लासिफाइड पोर्टल के तौर पर 2010 में हुई थी। कंपनी ने अपनी ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट आस्‍कमीबाजार 2012 में लॉन्‍च की थी। बाद में 2013 में गेटइट ने आस्‍कमी का अधिग्रहण कर लिया। यह वेबसाइट 70 शहरों के 12000 से ज्‍यादा वेंडरों और मर्चेंट्स से जुड़ी हुई थी।

Courtesy:Jansatta

 

Categories: Culture
Tags: Ask me