पालतू सांपों का सिर काटकर निगलने के मामले में 28 वर्षीय महिला को मिली कोर्ट से राहत

पालतू सांपों का सिर काटकर निगलने के मामले में 28 वर्षीय महिला को मिली कोर्ट से राहत

pa-jennifer-lampe-sc_850x550-620x400

दो पालतू सांपों का सिर काटकर निगल जाने वाली 28 वर्षीय ब्रिटिश महिला जेनिफर लैम्पे को जेल नहीं जाना पड़ेगा। इंग्लैंड के टेलफोर्ड में रहने वाली महिला ने पिछले महीने अपनी बहन से बहस होने के बाद शराब के नशे में अपने दो पालतू सांपों का सिर कैची से काटकर निगल लिया था। रॉयल सोसाइटी ऑफ फॉर द प्रिवेंशन ऑफ एनिमल क्रुएलिटी (आरएसपीसीए) के अधिकारी जब महिला के घर पहुंचे तो उसने दावा किया कि उसे बड़े सांप का सिर निगलने थोड़ी दिक्कत हुई थी। गुरुवार को टेलफोर्ड की अदालत ने महिला को दो सालों के लिए चार महीने की निलंबित सजा सुनाई है। यानी अगर महिला दो सालों तक ऐसे किसी अपराध में शामिल नहीं पाई जाती है तो उसे जेल नहीं जाना होगा। अगर वो दोबारा कोई अपराध करेगी तो उसे नए अपराध के लिए मिली सजा के साथ ही पिछली सजा के लिए भी चार महीने जेल में रहना होगा। अदालत के आदेश के अनुसार जेनिफर अगले पांच सालों तक कोई जानवर नहीं पाल सकेगी।

पुलिस के अनुसार जेनिफर ने सुबूत छिपाने के लिए सांपों का सिर निगल लिया था। हालांकि वो दोनों सांपों का सिर पचा नहीं पाई और उसने उन्हें उगल दिया था। जेनिफर ने अदालत से कहा कि वो बेघर कर दिए जाने के ख्याल से डर गई थी और उसे लगा कि वो अपने सांपों को खो देगी। वो अपने घर में अकेली रहती है। इससे पहले जेनिफर ने एक हैम्स्टर को फिश टैंक में डुबो दिया था और दो बिल्लियों और एक पिल्ले को कूड़े के डिब्बे में फेंक दिया था। आरएसपीसीए के अधिकारियों के अनुसार जब जेनिफर ने सांपों का सिर निकला तो उनके धड़ में जान बाकी थी और संभव है कि निगले जाते समय उनके सिरों में ‘संवेदना’ रही हो। पुलिस को दोनों सांपों के धड़ जेनिफर की जेब से मिले थे।

Courtesy:Jansatta

Categories: International

Related Articles