सितंबर में कांग्रेस प्रत्याशियों की पहली सूची

सितंबर में कांग्रेस प्रत्याशियों की पहली सूची

कानपुर : ‘हारने को कुछ है नहीं, सिर्फ जीतने चले हैं..।’ भले ही सूबे में इन हालात में कांग्रेस संघर्ष को खड़ी हुई हो, लेकिन आहिस्ता-आहिस्ता पर्याप्त आत्मविश्वास के साथ आगे बढ़ रही। यही वजह है कि अब कांग्रेस कोई भी कमजोर दांव खेलने के मूड में नहीं है। कमजोर कड़ियों पर लगातार पार्टी ‘इंटेलीजेंस’ की नजर है। अब दो सर्वे पूरे होने के बाद सितंबर के दूसरे पखवारे प्रत्याशियों की पहली सूची जारी कर दी जाएगी।

पार्टी एक तरफ जनता के बीच जड़ें जमाने की पुरजोर कोशिश में है, वहीं दूसरी तरफ रणनीतिकार प्रशांत किशोर के साथ मिलकर विधानसभा चुनाव के लिए संगठन पदाधिकारी और मजबूत दावेदारों की स्क्रूटनी करने में जुटी हुई है। पार्टी सूत्रों ने बताया कि टीम पीके के साथ ही प्रदेश नेतृत्व ने अपने भरोसे के लोगों को फीडबैक के लिए लगाया है। जो-जो टिकट के दावेदार हैं, उनके बारे में क्षेत्र में पता किया जा रहा है। हर कसौटी पर उनकी उम्मीदवारी को परखा जा रहा है। साथ ही संगठन में भी काफी फेरबदल की तैयारी है। इसके लिए भी रिपोर्ट तैयार कर ली गई है।

प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने बताया कि हमारे दो सर्वे हो चुके हैं। प्रत्याशियों की पहली सूची लगभग तैयार है। 20-22 सितंबर तक वह सूची जारी कर दी जाएगी। उन्होंने बताया कि संगठन पर भी प्रदेश की टीम की नजर है। सभी की रिपोर्ट मंगा ली गई है। लगातार नजर भी बनी रहेगी। अध्यक्ष या संगठन के जो भी पदाधिकारी निष्क्रिय या कमजोर महसूस होंगे, जल्द ही उन्हें भी बदल दिया जाएगा।

पहली सूची में हो सकते हैं 150 नाम

सूत्रों ने बताया कि सितंबर में जारी होने जा रही पहली सूची में प्रदेश भर के 150 प्रत्याशियों के नाम हो सकते हैं। इसमें ब्राह्माण प्रत्याशियों की अच्छी-खासी संख्या होगी। पार्टी इस जातीय समीकरण पर गंभीरता से सोच रही है, इसीलिए हाल ही में दो बैठकें ब्राह्माण समाज के पदाधिकारियों के साथ हाईकमान दिल्ली और लखनऊ में कर चुका है।

श्रोत गुप्ता बने प्रदेश सचिव

प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने कानपुर के श्रोत गुप्ता को प्रदेश सचिव बनाया है। उन्हें यूथ कांग्रेस और एनएसयूआई से संबद्ध कर युवाओं को जोड़ने की जिम्मेदारी दी गई है। श्रोत अब तक कांग्रेस व्यापार प्रकोष्ठ के प्रदेश उपाध्यक्ष थे।

Courtesy: Jagran.com

Categories: Politics, Regional