क्या आधार कार्ड के इन 13 फायदों के बारे में जानते हैं आप ?

क्या आधार कार्ड के इन 13 फायदों के बारे में जानते हैं आप ?

aadhar-card-capture

आज की तारीख में देश में 1 अरब से ज्यादा आधार कार्ड धारक लोग हैं और जब पहला आधार कार्ड जारी हुआ था तबसे आज तक 6 साल हो चुके हैं. यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (यूआईडीएआई) को अदालत द्वारा भी मान्यता मिल गई और अब देश में करीब 85 फीसदी कवरेज के साथ आधार कार्ड देश में सबसे ज्यादा उपयोग होने वाला कार्ड बन गया है.

aadhar-2

 

हालांकि आधार कार्ड अनिवार्य नहीं है लेकिन इसके जरिए कई सरकारी सेवाओं और सामाजिक सुरक्षा योजनाओं का फायदा आपको मिल सकता है. तो यहां आप जानिए कि अगर आपके पास आधार कार्ड है तो किन-किन योजनाओं में आप इसका प्रयोग कर सकते हैं और सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का फायदा उठा सकते हैं.

home-loan-new

1. प्रॉपर्टी ट्रांजेक्शन्सः आजकल देश में प्रॉपर्टी ट्रांजेक्शन्स पेपरलैस, कैशलेस और यहां तक कि मानव रहित भी हो गए हैं यानी आपको खुद भी जाने की जरूरत नहीं है. हाल ही में देश में महाराष्ट्र में मुंबई में प्रॉपर्टी ट्रांजेक्शन्स के लिए www.igrmaharashtra.gov.in पर जाएं. अपना बैंक खाता, आधार और बायोमीट्रिक डिटेल्स (फिंगरप्रिंट, आईरिस रिकॉगनाइजेशन) का विवरण दीजिए. इसके साथ डिजिटल सिग्नेचर और प्रॉपर्टी के दस्तावेज जमा करें. अगर आपको किराएदार को प्रॉपर्टी ट्रांजेक्शन्स करने हैं तो उनके लिए एक समय पर उपस्थित होना जरूरी नहीं है. इसके साथ आपकी फीस का भुगतान अपने आप हो जाएगा और आपके सारे डॉक्यूमेंट आधार ऑपरेटेड डिजिटल लॉकर में सेव हो जाएंगे और आपको प्रॉपर्टी ट्रांजेक्शन्स के लिए खुद मौजूद रहना जरूरी नहीं होगा.

medical-2

2. हेल्थकेयरः आधार कार्ड के जरिए ना सिर्फ अस्पतालों में बल्कि कई फार्मा लैब्स और पैथोलोजी में आप मरीज की जानकारी को साझा कर सकते हैं और इसका फायदा उठा सकते हैं. आजकल ई-हॉस्पिटल सेवाएं उपलब्ध हैं जिसके जरिए ना केवल सरकारी अस्पताल में बल्कि एम्स में भी आप आधार कार्ड के जरिए. अपॉइंटमेंट बुक कर सकते हैं.

tirupati

3. मंदिरों में कर्मकांडः हाल ही में दुनिया के सबसे अमीर मंदिरों में से एक तिरुपति के बालाजी मंदिर में अंगप्रदक्षिणम रस्म को करने के लिए बुकिंग के लिए आधार कार्ड को अनिवार्य कर दिया है. इसका फायदा है कि एक ही इंसान बार-बार इस रस्म को नहीं करेगा क्योंकि इसके लिए काफी ज्यादा मांग रहती है.

student1

4. स्कॉलरशिपः आजकल सभी कॉलेज के छात्रों के लिए आधार कार्ड रखना अनिवार्य कर दिया गया है. अगर कोई छात्र राज्य सरकार या यूजीसी से किसी तरह की स्कॉलरशिप हासिल करना चाहता/चाहती है तो उसे यूआईडीएआई द्वारा जारी आधार कार्ड प्रस्तुत करना जरूरी है.

digilocker-capture

5. डिजिलॉकरः मोदी सरकार की शुरु की गई बड़ी योजनाओं में से एक डिजिटल इंडिया के तहत डिजिलॉकर का प्रावधान है जिससे कागजी दस्तावेजों का इस्तेमाल कम से कम करने का विचार है और ई-डॉक्यूमेंट के जरिए कई एजेंसियों में इनका इस्तेमाल कर सकते हैं. लोग अपना अकाउंट बनाकर ई-डॉक्यूमेंट जमा करें, डिजिटल सिग्नेचर का प्रयोग करके इस सुविधा का फायदा उठा सकते हैं. ये डिजिटल साइन वाले डॉक्यूमेंट सरकारी एजेंसियों या अन्य संस्थाओं के द्वारा प्रयोग किए जा सकते हैं. आपको बार-बार अपने कागजी दस्तावेजों का इस्तेमाल नहीं करना पड़ेगा.

mf

6. म्युचुअल फंड्सः निवेश आधार कार्ड से जुड़ा ई-केवाईसी का उपयोग म्युचुअल फंड निवेश में कर सकते हैं. निवेशकों को आधार कार्ड ऑथेंटिकिशेन के लिए अपना आधार नंबर, अपना मोबाइल नंबर और वनटाइम पासवर्ड (ओटीपी) का इस्तेमाल करना होगा. इसके बाद उसे आधार की सेल्फ अटेस्ट फोटोकॉपी को अपलोड करना होगा. इसके बाद यूआईडीएआई द्वारा डाटाबेस चेक होने और वैध होने के बाद ई-केवाईसी वैध हो जाएगा और आप म्युचुअल फंड ट्रांजेक्शन्स के लिए इसका प्रयोग कर सकते हैं.

money-for-retire

7. पेंशन स्कीम्स: ईएनपीएस निवेशकों को घर बैठे-बैठे नेशनल पेंशन स्कीम में खाता खोलने की सुविधा देता है. इसके लिए बस आपको चाहिए आधार, पैन कार्ड और इंटरनेट. केंद्र सरकार ने पहले ही सारे सरकारी पेंशनधारकों के लिए आधार कार्ड जरूरी कर दिया है और उन्हें बैंक खाते को आधार कार्ड से लिंक करने के लिए भी बढ़ावा दे रही है. अब ये सेवा एनआरआई के लिए भी शुरू कर दी गई है.

income-tax-2

8. इनकम टैक्स रिटर्न्सः आयकर विभाग टैक्सपेयर्स को आधार कार्ड के जरिए आयकर रिटर्न को ई-वेरिफाई करने की सुविधा देता है. इसके तहत अब आपको इनकम टैक्स रिटर्न फॉर्म भरकर सेंट्रल प्रोसेसिंग सेंटर भेजने की जरुरत नहीं पड़ती है. इसके लिए बस अपने ई-फाइलिंग खाते को आधार कार्ड के साथ जोड़ना भर है. एक बार ये कर दिया तो आपके वेरिफिकेशन के बाद पैन कार्ड के साथ आपका आधार कार्ड लिंक हो जाएगा.

traffic

9. ट्रांसपोर्ट: आंध्र प्रदेश में व्हीकल रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट, लर्निंग लाइसेंस, पर्मानेंट ड्राइविंग लाइसेंस और वाहन का मालिकाना हक बदलने के लिए जुलाई 2015 से आधार कार्ड को अनिवार्य कर दिया गया है. वहां सभी तरह के रोड ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी ट्रांजेक्शन्स के लिए आधार कार्ड जरूरी हो गया है. वाहनो के लिए लोन लेना या देना भी आधार कार्ड के बिना नहीं हो सकता है.

insurance-21

10. बीमाः जल्द ही बीमा उत्पाद डिजिटल प्लेटफॉर्म पर मौजूद होंगे और सारी ई-कॉमर्स वेबसाइट पर भी बीमा मिल पाएगा. आईआरडीए (बीमा कंपनियों का रेगुलेटर) ने साफ किया है कि ई-केवाईसी को ई-आधार के जरिए, या फिर नेशनल सिक्योरिटी डिपॉजिटरी (एनएसडीएल) के जरिए किया जा सकता है और इसके लिए ई-पैन का इस्तेमाल किया जा सकता है. आईआरडीए द्वारा दिए गए ड्राफ्ट में साफ कहा गया है कि ई-इंश्योरेंस के लिए लोगों को ई-इंश्योरेंस खाता होना रखना जरूरी होगा जिससे वो ऑनलाइन बीमा खरीद सकें.

modi41-580x395

11.इसके अलावा मोदी सरकार की नई पहल के जरिए बच्चों के लिए चलने वाली सारी योजनाएं जैसे मिड-डे मील, प्राइमरी हेल्थकेयर और आरंभिक शिक्षा के लिए जो भी योजनाएं चल रही हैं उनके लिए आधार कार्ड को जरूरी कर दिया जाने वाला है. इसके तहत निम्न योजनाओं के लिए आधार कार्ड का होना जरूरी होगा.

school1

12. सर्व शिक्षा अभियान, राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान, इंटीग्रेटेड चाइल्ड डेवलपमेंट सर्विसेज और इंटीग्रेटेड चाइल्ड प्रोटेक्शन स्कीम जिनके जरिए बच्चों को कई फायदे मिलते हैं लेकिन आगे से इनके लिए आधार कार्ड जरूरी कर दिया गया जाएगा.

aadhar-card

13. देश में यूआईडीएआई, मानव संसाधन मंत्रालय और महिला एवं बाल विकास मंत्रालय को कहा गया है कि जो आंगनवाड़ी और स्कूल आधार कार्ड से जुड़े हैं उन्हें वित्तीय सहायता दी जाए. इसके अलावा स्कूली बच्चों को मेडिकल चिकित्सा और सुविधाएं देने के लिए जो योजनाएं चल रही हैं वो भी आधार के जरिए लिंक करने की योजना पहले से चल रही है.

तो आधार कार्ड के इतने सारी जग उपयोग होते हैं ये तो हमने जान लिया लेकिन और भी बहुत सी जगहें हैं जहां आधार कार्ड आपके जीवन से जु़ड़ा हुआ है और इसके बारे में हम आपको जानकारी देते रहेंगे.

Courtesy: ABPNews

 

 

Categories: Finance, India

Related Articles