आरुषि मर्डर केस: मां की बीमारी के आधार पर नूपुर तलवार को 3 हफ्ते की परोल

आरुषि मर्डर केस: मां की बीमारी के आधार पर नूपुर तलवार को 3 हफ्ते की परोल

इलाहाबाद. इलाहाबाद हाईकोर्ट ने आरुषि की हत्या के मामले में सजा काट रही डॉ. नुपूर तलवार को बीमार मां से मिलने के लिए 3 हफ्ते की परोल पर रिहा करने का आदेश दिया है। कोर्ट ने कहा कि परोल का समय बीतने के बाद नूपुर तलवार को 22 सितंबर को कोर्ट में सरेंडर करना होगा। 2013 में सुनाई थी आजीवन कारावास की सजा
– यह आदेश जस्टिस बाल कृष्ण नारायण और जस्टिस अरविंद कुमार मिश्रा की बेंच ने दिया है।
– बता दें, गाजियाबाद की सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने डॉ. नूपुर और उनके पति डॉ. राजेश तलवार को बेटी आरुषि और नौकर हेमराज की हत्या का दोषी ठहराए जाने और सबूत मिटाने के आरोप में 2013 में आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी।
– 15 मई 2008 को 14 साल की आरुषि का शव नोएडा के जलवायु विहार स्थित उसके फ्लैट में मिला था।
– इस हत्या के लिए पहला शक हेमराज पर गया, लेकिन दो दिन बाद उसी फ्लैट से हेमराज का शव बरामद होने के बाद इस हत्याकांड ने एक नया मोड़ ले लिया।

दोनों की जमानत अर्जी हो चुकी है खारिज

– तलवार दंपत्ति को मिली सजा के खिलाफ उनकी क्रिमिनल अपील हाईकोर्ट में विचाराधीन है।

– तलवार दंपत्ति को सीबीआई कोर्ट ने यह सजा 26 नवंबर 2013 को सुनाई थी।
– दोनों की जमानत की अर्जी पहले ही खारिज हो चुकी है।

Courtesy: Bhaskar.com

Categories: Crime, Regional