इलाहाबाद जंक्शन पर बवाल से दिल्ली-हावड़ा और मुंबई रूट ठप

इलाहाबाद जंक्शन पर बवाल से दिल्ली-हावड़ा और मुंबई रूट ठप

इलाहाबाद  इलाहाबाद जंक्शन पर आरपीएफ जवानों द्वारा रेलवे के गार्डों की पिटाई किए जाने से बवाल और अराजकता जैसा माहौल हो गया है। गार्डों के हंगामा और कार्य बहिष्कार से प्लेटफार्म, आउटर के अलावा नैनी, रामबाग, करछना और सिराथू सहिज जहां जो ट्रेनें हैं वह खड़ी हो गईं। ट्रेनों के खड़ी हो जाने से प्लेटफार्मों पर यात्रियों की भारी भीड़ हो गई है। भगदड़ जैसे हालात हैं। इस दौरान नार्थ ईस्ट एक्सप्रेस के यात्रियों की एसपी रेलवे से जमकर बहस भी हुई। दो घंटे से दिल्ली- हावड़ा और मुंबई रूट पर ट्रेनों का संचालन ठप रहा।

इलाहाबाद जंक्शन पर बुधवार दोपहर 12 बजे रेलवे गार्ड विवेक से आई डी आरपीएफ जवान अतुल त्रिपाठी ने आई डी मांगी तो कहासुनी शुरू हो गई। इस दौरान अतुल व अन्य आरपीएफ जवानों ने विवेक की पिटाई कर दी। जानकारी होते ही दो रेलवे गार्ड मौके पर पहुंचकर आरपीएफ जवानों पर रोष जताने लगे। इस पर आरपीएफ जवानों ने विवेक सहित वहां पहुंचे दोनों गार्डों को जमकर पीटा। यह जानकारी अन्य रेलवे गार्डों को हुई तो हंगामा शुरू हो गया। एक दर्जन से अधिक गार्ड पहुंचकर विरोध जताते हुए कार्य बहिष्कार का ऐलान कर दिया। प्लेट फार्म पर जो ट्रेनें खड़ी हैं उनके गार्डों ने के भी कार्य बहिष्कार में शामिल हो जाने से ट्रेन जस की तस खड़ी हैं। जंक्शन पर अराजकता जैसा माहौल है।

उत्तर मध्य रेलवे के किसी अफसर ने अभी मामले में कोई एक्शन नहीं लिया है। नार्थ ईस्ट एक्सप्रेस इलाहाबाद जंक्शन से रवाना हो चुकी थी उसके बाद गार्ड ने ट्रेन रोक दिया। आधी आउटर पर और प्लेटफार्म पर नार्थ ईस्ट एक्सप्रेस के रुकने से यात्री फंस गए हैं। इसके अलावा जंक्शन पर दिल्ली जयनगर एक्सप्रेस, सिकंदराबाद-दानपुर, ब्रह्मपुत्र भी तीन घंटे से जंक्शन पर और रामबाग, नैनी, करछना, सिराथू, प्रयाग आदि जहां भी ट्रेन हैं उसे गार्डों ने वहीं रोक दिया है।

दोपहर दो बजे रेलवे के अफसरों ने गार्डों को आश्वस्त किया कि दोषी आरपीएफ जवानों पर कार्रवाई होगी तो वह माने। इसके बाद जंक्शन से ट्रेनों का रवाना किया गया। गार्ड विवेक का कहना है कि आरपीएफ जवानों ने उनसे बदसलूकी की है जबकि आरपीएफ जवान अतुल त्रिपाठी का कहना है कि ट्रेन आ रही थी और उसी समय विवेक ट्रैक पार कर रहे थे। इन्हें रोका गया तो यह धौस देने लगे। वर्दी में होने की वजह से विवेक से आईडी मांगी गई।

Courtesy: Jagran.com

Categories: Regional

Related Articles