पेट्रोल 3.38 रु और डीजल 2.68 रु प्रति लीटर महंगा

पेट्रोल 3.38 रु और डीजल 2.68 रु प्रति लीटर महंगा

sting_1472657244

नई दिल्‍ली. दो बार की कटौती के बाद इस बार तेल कंपनियों ने आम लोगों को तगड़ा झटका दिया है। कंपनियों ने पेट्रोल 3.38 रुपए प्रति लीटर और डीजल 2.68 रुपए महंगा कर दिया है। बढ़ोतरी के बाद दिल्ली में पेट्रोल 60.09 से बढ़कर 63.47 रुपए प्रति लीटर मिलेगा। वहीं, डीजल 50.27 से बढ़कर 52.94 रुपए प्रति लीटर में मिलेगा। दोनों के करीब 5% बढ़े हुए रेट बुधवार आधी रात के बाद से लागू हो गए। गुरुवार को सरकार ने सब्सिडी वाले एलपीजी सिलिंडर की कीमत भी 2 रुपए बढ़ा दी।
पेट्रोल के नए रेट (रुपए प्रति लीटर)
शहर पहले रेट नए रेट कितना इजाफा
दिल्ली 60.09 63.47 5%
कोलकाता 64.14 66.84 4%
मुंबई 65.03 68.40 5%
चेन्नई 59.5 63.02 6%
डीजल के नए रेट (रुपए प्रति लीटर)
शहर पहले रेट नए रेट कितना इजाफा
दिल्ली 50.27 52.94 5%
कोलकाता 52.88 55.15 4%
मुंबई 55.58 58.48 5%
चेन्नई 51.66 54.43 5%
क्रूड में तेजी से बढ़ी पेट्रोल, डीजल की कीमत
– अगस्त में ब्रेंट क्रूड 18 फीसदी महंगा हो गया। 1 अगस्त को क्रूड 42.14 डॉलर प्रति बैरल था। 30 अगस्त को क्रूड 49.70 डॉलर प्रति बैरल के आसपास ट्रेड कर रहा था। अगस्त में क्रूड ने 50.89 के हाइएस्ट लेवल को छुआ था।
अगस्त में 7 डॉलर महंगी हुई क्रूड बास्केट
– क्रूड कीमतों के बढ़ने का असर भारतीय क्रूड बास्केट पर भी देखने को मिल रहा है। अगस्त महीने में भारतीय क्रूड बास्केट में 7 डॉलर महंगा हुआ है। 1 अगस्त को भारतीय क्रूड बास्केट की कीमत 40.33 डॉलर प्रति बैरल थी जबकि 29 अगस्त को क्रूड बास्केट की कीमत 47.14 डॉलर प्रति बैरल थी।
अगस्त में 2 बार घटे पेट्रोल-डीजल के दाम
– अगस्त महीने में तेल मार्केटिंग कंपनिया 2 बार तेल के दाम घटा चुकी हैं। तेल कंपनियों ने 31 जुलाई को दाम घटाए थे, जो एक अगस्त से लागू हुए थे इसके अलावा 15 अगस्त को पेट्रोल डीजल के दाम घटाए थे। अगस्त में पेट्रोल 3.42 रुपए और डीजल 3.01 रुपए सस्ता हो चुका है।
क्‍यों बढ़ी कीमतें?
– इकॉनोमिस्‍ट डीएच पई पनंदिकर ने  बताया कि पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोतरी का कारण इंटरनेशनल मार्केट में क्रूड (कच्‍चे तेज) की कीमतों में बनी तेजी रहा।
– पनंदिकर ने बताया कि अगस्‍त में क्रूड में कई उतार-चढ़ाव के बाद अंत में तेजी बनी रही। यह तेजी आगे भी बनी रह सकती है।
क्‍या होगा असर?
– पनंदिकर ने बताया कि पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने से माल भाड़ा बनने की पूरी संभावना है।
– इसका सीधा असर वस्‍तुओं की कीमतों पर पड़ेगा। यदि आगे भी यह तेजी बरकरार रहती
है तो महंगाई बढ़ने के पूरे पूरे आसार हैं।
Courtesy: Bhaskar.com
Categories: Finance