उत्तर प्रदेश में यौन हिंसा की एक नहीं अनेक वारदातें

उत्तर प्रदेश में यौन हिंसा की एक नहीं अनेक वारदातें

लखनऊ उत्तर प्रदेश में महिला हिंसा को लेकर घोर दुस्साहस वाली वारदातें हो रहीं हैं। आए दिन इन मामलों को दर्ज करने में पुलिस की संवेदनहीनता नजर आती हैं। पीलीभीत में युवक ने घर में घुसकर दुष्कर्म की कोशिश की। बदायूं में महिला ने चार लोगों के दुष्कर्म के प्रयास का विरोध किया तो गोली दी लेकिन रामपुर में तो एक युवक ने पत्नी को बेंच दिया। बदायूं में सारी हदें पार कर एक सौतेले पिता ने अपनी बेटी को हवश का शिकार बना डाला। ज्यादातर मामलों में पुलिस की भूमिका काफी सीमित और समय पर उचित कार्रवाई न करने वाली रही।

दांव पर अस्मत देख खाया जहर

पीलीभीत के माधोटांडा में युवक ने घर में घुसकर किशोरी से दुष्कर्म की कोशिश की। चीखने पर युवक जान से मारने की धमकी देकर फरार हो गया। इज्जत दांव पर लगी तो किशोरी बेहद आहत हुई। जहर खाकर आत्महत्या करने का प्रयास किया। हालत खराब होने पर परिजनों ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया। पिता आरोपी के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कराने थाने गए तो दारोगा ने गाली देकर भगा दिया। हद तो तब हो गई जब पुलिस ने उसके भाइयों को पकड़ कर थाने में बैठा लिया और पीडि़ता के पिता से सादे कागज पर अंगूठा लगवा लिया। किशोरी परिवार 28 अगस्त की रात घर में सो रही थी। इसी बीच एक घुस आया और दुष्कर्म की कोशिश करने लगा। किशोरी की चीख सुन परिजन जाग गए। पीडि़ता के भाइयों ने घटना की जानकारी फोन पर एसपी मुनिराज को दी। एसपी से शिकायत करने से पुलिस भड़क गई और पीडि़त परिवार को फर्जी मुकदमे में जेल भेजने की धमकी देते हुए जबरन सादे कागज पर अंगूठा लगवा लिया। अब पीडि़त परिवार ने मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर कार्रवाई की मांग की है।

दुष्कर्म के विरोध पर महिला को गोली मारी

बदायूं के अलापुर क्षेत्र में शौच को जा रही महिला को चार लोगों ने पकड़ लिया और दुष्कर्म का प्रयास किया। विरोध करने पर महिला को गोली मारकर घायल कर दिया। परिजनों ने अस्पताल में भर्ती कराया है। आज शाम तीस वर्षीय महिला अकेली खेतों की ओर जा रही थी। अंधेरे का फायदा उठाते हुए गांव के बाहर बैठे चार लोग उसके पीछे लग गए। एकांत पाकर उसे दबोच लिया। महिला ने शोर मचाना शुरू किया तो आरोपी भड़क गए। तमंचे से उसके ऊपर गोली दाग दी। गोली महिला के हाथ में लगी और वह घायल हो गई। महिला की चीख-पुकार सुन ग्र्रामीण और परिजन मौके पर पहुंचे। पुलिस का कहना है कि मामला मारपीट और पेशबंदी की है, फिर भी जांच की जा रही है।

सौतेला पिता ने किया दुष्कर्म

बदायूं के अलापुर में रिश्तों को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। सौतेले पिता किशोरी को डरा धमकाकर दुष्कर्म करता रहा। जब वह पेट से हुई तो गर्भपात करा दिया। हालत बिगडऩे पर डॉक्टर ने घटना खोली। पीडि़ता की मां ने एसपी सिटी ने शिकायत की। आरोपी को गिरफ्तार कर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। अलापुर कस्बा निवासी एक महिला चार साल पहले दस वर्षीय बेटी के साथ पति को छोड़कर प्रेमी के साथ चली गई थी। वे तीनों एटा के एक गांव में रह रहे थे। तीन महीने पहले महिला किसी काम से कहीं गई तो उसके कथित पति ने 14 वर्षीय बेटी को डरा धमकाकर हवस का शिकार बना लिया। जुबान खोलने पर जान से मारने की धमकी दी। 24 अगस्त को आरोपी सौतेले पिता को जानकारी हुई कि वह गर्भवती है तो उसने चुपचाप गर्भपात की दवाई खिला दी। इससे किशोरी की हालत बिगड़ गई। महिला पांच दिन पहले वापस आई तो बेटी की हालत बिगड़ी देख डॉक्टर के पास ले गई, जहां मामले का पता चला।

पत्नी को 25 हजार में बेचा

रामपुर में दूसरी शादी के लिए युवक ने 25 हजार रुपये में पत्नी का सौदा कर दिया। खरीदार महिला को दिल्ली ले गया, जहां तीन माह तक बंधक बनाकर उससे दुष्कर्म किया। महिला किसी तरह छूटकर मायके आ गई और घटना की जानकारी पुलिस को दी। पुलिस ने पति समेत तीन के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। पटवाई थाना क्षेत्र में निवासी ग्रामीण ने चार साल पहले बेटी की शादी शहजादनगर थाना क्षेत्र के एक गांव में की थी। आरोप है कि पति पहले तो कम दहेज के लिए महिला को परेशान करने लगा। बाद में वह दूसरी महिला के चक्कर में पड़ गया और उससे शादी करने का फैसला कर लिया। पत्नी से छुटकारा पाने के लिए उसने उसे अजीमनगर में रहने वाले व्यक्ति को 25 हजार रुपये में बेच दिया। उस व्यक्ति ने महिला को दिल्ली में रहने वाले तहेरे भाई को बेच दिया, जो आटो चलाता था। उसने महिला को दिल्ली में बंधक बनाकर रखा और उसके साथ दुष्कर्म करता रहा। चार दिन पहले महिला किसी तरह बचकर वहां से निकल आई। पुलिस ने बताया कि महिला के पति ने उसे अजीमनगर के सतीश को बेचा था। सतीश से महिला को उसका तहेरा भाई गोङ्क्षवद दिल्ली ले आया। तीनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

Courtesy: Jagran.com

Categories: Crime

Related Articles