शिक्षक दिवस: राष्ट्रपति मुखर्जी आज बनेंगे ‘सर’, बच्चों को पढ़ाएंगे इतिहास

शिक्षक दिवस: राष्ट्रपति मुखर्जी आज बनेंगे ‘सर’, बच्चों को पढ़ाएंगे इतिहास

नई दिल्ली: राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी आज शिक्षक दिवस के मौके पर दिल्ली के सरकारी स्कूल के बच्चों को पढ़ाएंगे। राष्ट्रपति भवन स्थित डॉ. राजेंद्र प्रसाद सर्वोदय विद्यालय में राष्ट्रपति शिक्षक की भूमिका में होंगे। इस बार का विषय होगा ‘भारतीय राजनीति का विकास’। यहां पर याद दिला दें कि बीते साल भी राष्ट्रपति ने बच्चों को पढ़ाया था। पिछले साल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी शिक्षक दिवस पर बच्चों से अपने स्कूल के दिनों के अनुभव बांटे थे। इस बार वो जी-20 समूह में हिस्सा लेने चीन गए हुए हैं, इसलिए पीएम से रूबरू नहीं होंगे। –
इतिहास, अंग्रेजी हैं राष्ट्रपति के प्रिय विषय
यूं तो राष्ट्रपति का इतिहास प्रिय विषय है लेकिन राजनीति के वे मंझे खिलाड़ी रह चुके हैं और शायद यही वजह है कि वह 11 और 12 के बच्चों को भारतीय राजनीति के विकास के बारे में पढ़ाएंगे। पिछले साल दिल्ली में बच्चे सर मुखर्जी से बहुत प्रभावित हुए थे। बच्चों से अपने अनुभव बांटते हुए प्रणब मुखर्जी ने कहा था कि वह जीवन में जो कुछ भी कर पाए हैं वह उनकी मां की वजह से कर पाए हैं।

डीडी पर राष्ट्रपति की क्लास का सीधा प्रसारण
भारत के राजनीतिक विकास विषय पर राष्ट्रपति की ये क्लास एक घंटे की होगी। इसका सीधा प्रसारण दूरदर्शन पर किया जाएगा, जिससे राष्ट्रपति से देश के बाकी हिस्सों में भी बच्चे और शिक्षक रूबरू हो सकें। मुखर्जी सर की क्लास सुबह 10 बजे शुरू होगी।
राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार प्रदान करेंगे महामहिम
वहीं, राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी आज शिक्षक दिवस के मौके पर साल 2015 के लिए राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार प्रदान करेंगे। इस कार्यक्रम में केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर, मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री उपेन्द्र कुशवाहा और डॉ. महेंद्र पाण्डेय मौजूद रहेंगे। कार्यक्रम सुबह 11.45 बजे विज्ञान भवन में शुरू होगा।

Courtesy: Jagran.com

Categories: India

Related Articles