विजय माल्या भारत आना चाहते हैं, कोर्ट से मांगी पेशी में छूट

विजय माल्या भारत आना चाहते हैं, कोर्ट से मांगी पेशी में छूट

नई दिल्ली
सरकारी बैंकों के करीब 9000 करोड़ के लोन डिफॉल्टर कारोबारी विजय माल्या ने भारत आने की इच्छा जताई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पटियाला कोर्ट में माल्या के वकील ने कहा कि वह समन का जवाब देने भारत आना चाहते हैं। माल्या ने व्यक्तिगत पेशी से छूट की मांग की है।

माल्या के वकील ने ट्रायल कोर्ट को बताया है कि वह भारत आना चाहते हैं पर उनका पासपोर्ट भारतीय अधिकारियों ने जब्त कर लिया है। साल 2000 के FERA उल्लंघन केस में माल्या की तरफ से व्यक्तिगत पेशी की छूट की मांग की गई है।

पिछले हफ्ते मुंबई की चीफ मेट्रोपोलिटन मैजिस्ट्रेट कोर्ट ने किंगफिशर एयरलाइंस लिमिटेड के मालिक माल्या के खिलाफ गैर जमानती वॉरंट जारी किया था। माल्या के अलावा उनके चीफ एग्जिक्युटिव संजय अग्रवाल के खिलाफ भी गैर जमानती वॉरंट जारी किया गया था।

हजारों करोड़ का लोन नहीं चुकाने वाले डिफॉल्टर कारोबारी माल्या पर शिकंजा कसता जा रहा है। इस महीने की शुरुआत में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कारोबारी विजय माल्या पर बड़ी कार्रवाई की। ईडी ने माल्या की 6630 करोड़ रुपये की संपत्ति अटैच कर ली है।

इस संपत्ति में माल्या का एक मॉल, फार्महाउस और उनके मालिकाना हक वाले शेयर शामिल हैं। ईडी ने जिन संपत्तियों को अटैच किया है वे मुंबई और बेंगलुरु समेत देश के कई शहरों में हैं। गौरतलब है कि माल्या इस साल मार्च में देश छोड़कर लंदन फरार हो गए हैं। सरकार ने उनका पासपोर्ट रद्द कर दिया है।

Courtesy: NBT
Categories: Finance