वापस होंगे शिवपाल यादव के सभी मंत्रालय, गायत्री प्रजापति फिर बनेंगे मंत्री

वापस होंगे शिवपाल यादव के सभी मंत्रालय, गायत्री प्रजापति फिर बनेंगे मंत्री

लखनऊ प्रदेश की सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव तथा मुख्यमंत्री सीएम अखिलेश यादव के बीच आज की बैठक के बाद अब शिवपाल सिंह यादव की भूमिका तय हो गई है। वह समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष बने रहेंगे जबकि उनके पुराने मंत्रालय फिर से उनको मिलेंगे।

इसके साथ ही सपा सुप्रीमो मुलायम के के बेहद करीबी गायत्री प्रसाद प्रजापति एक बार फिर से मंत्री बनेंगे लेकिन उनको पुराना मंत्रालय नही मिलेगा।

लखनऊ में आज मुलायम सिंह यादव के आवास पर सीएम अखिलेश यादव तथा पार्टी के मुखिया के बीच लंबी वार्ता के बाद कई मसलों पर फैसला भी हो गया। इसी बैठक में तय हो गया कि शिवपाल सिंह यादव प्रदेश अध्यक्ष के साथ ही सरकार में अपने सभी पुराने मंत्रालय भी संभालेंगे।

इस बैठक में तय हुआ कि शिवपाल के सभी विभाग वापिस होंगे। वह प्रदेश अध्यक्ष के पद पर भी बने रहेंगे। इसके साथ ही बर्खास्त मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति की अखिलेश यादव कैबिनेट में फिर वापसी होगी। उनको खनन विभाग नहीं मिलेगा। इसके साथ ही पूर्व मुख्य सचिव दीपक सिंघल पर अब कोई फैसला बाद में होगा।

बीच में गड़बड़ी करने वाले हटेंगे : अखिलेश

सियासी सरगर्मी में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने लखनऊ में बड़ा बयान दिया। एक निजी चैनल के कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि चाचा से मेरे अच्छे रिश्ते हैं। शिवपाल यादव मेरे चाचा है। प्रदेश में सियासी गहमागहमी के बीच सीएम ने कहा कि झगड़ा मेरी वजह से नहीं बल्कि झगड़ा उस कुर्सी को लेकर है जिस कुर्सी पर मैं बैठा हूं।

अखिलेश ने कहा कि मैंने और नेता जी (मुलायम सिंह यादव) ने तय किया है कि जो लोग बीच में गड़बड़ कर रहे हैं उन्हें हटा देंगे। उन्होंने कहा कि ऐसा व्यक्ति एक (अमर सिंह) भी हो सकता है। अमर सिंह का नाम लिए बगैर ने उन्होंने कहा कि बीच के आदमी को बीच में नहीं आने देंगे,चोर की दाड़ी में तिनका है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि हमारे भीतर गम छिपाने की आदत होनी चाहिए। हम बाहरी लोगों पर कड़ी कार्रवाई करेंगे।

Courtesy: Jagran.com

Categories: Politics

Related Articles