उच्च स्तरीय बैठक में बोले पीएम मोदी, पाक को अलग-थलग करने के हों प्रयास, आतंकी देश घोषित करने की होगी मांग

उच्च स्तरीय बैठक में बोले पीएम मोदी, पाक को अलग-थलग करने के हों प्रयास, आतंकी देश घोषित करने की होगी मांग

नई दिल्ली
उड़ी में सेना की यूनिट पर हुए भीषण आतंकी हमले के जवाब में भारत ने पाकिस्तान को अलग-थलग करने और उसे आतंकी देश घोषित करने की रणनीति बनाई है। सोमवार दोपहर पीएम नरेंद्र मोदी के आवास पर हुई उच्च स्तरीय बैठक में यह फैसला लिया गया। हमारे सहयोगी चैनल टाइम्स नाउ के मुताबिक इस मीटिंग में पीएम ने कहा कि हमें राजनयिक स्तर पर पाकिस्तान को अलग-थलग करने के प्रयास करने चाहिए। इस उच्च स्तरीय मीटिंग में सेना प्रमुख दलबीर सिंह, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर, वित्त मंत्री अरुण जेटली और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल मौजूद थे।

बैठक में मौजूद सभी मंत्रियों, एनएसए और सेना प्रमुख ने माना कि इस हमले में पाकिस्तान की संलिप्तता के सबूत हैं। सूत्रों के मुताबिक भारत की ओर से संयुक्त राष्ट्र संघ में इस मुद्दे को उठाते हुए पाकिस्तान को आतंकी देश घोषित करने की मांग की जा सकती है। 26 सितंबर को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन को संबोधित करेंगी। शुरुआती जांच में इस हमले में पाकिस्तानी ऐंगल के पुख्ता सबूत मिले हैं। आतंकियों के पास से मिले पाकिस्तानी हथियार, जीपीएस डेटा और पश्तो भाषा में लिखे नोट्स बताते हैं कि दहशतगर्द सीमा पार से आए थे।

यही नहीं 9 और 10 नवंबर को इस्लामाबाद में होने वाले सार्क सम्मेलन में पीएम नरेंद्र मोदी के शामिल होने पर भी संदेह है। टीवी रिपोर्ट्स के मुताबिक बैठक के दौरान पाकिस्तानी सीमा में हमले को लेकर कोई रणनीति नहीं बनी। लेकिन, घुसपैठ की कोशिश पर सेना की ओर से बड़ा ऑपरेशन चलाया जा सकता है। इसके अलावा घुसपैठ कर गए आतंकियों को लेकर सर्चिंग ऑपरेशन भी शुरू किया जा सकता है।

गृह मंत्री राजनाथ के घर भी हुई बैठक

meeting

इससे पहले गृह मंत्री राजनाथ सिंह के आवास पर समीक्षा बैठक हुई। टीवी रिपोर्ट्स के मुताबिक इस मीटिंग में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल ने पाकिस्तान और आतंकी हमलों से निपटने को लेकर शॉर्ट और लॉन्ग टर्म प्लान पेश किया। इस पर गृह मंत्री, सेना प्रमुख, डीजीएमओ और आईबी चीफ ने चर्चा की। इस मीटिंग में रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर और पीएमओ राज्य मंत्री मनोहर पर्रिकर भी मौजूद थे।

रिजिजू बोले, पाक का हाथ होने के पक्के सबूत

इस बीच गृह राज्य मंत्री किरेन रिजिजू ने कहा कि उड़ी अटैक में पाकिस्तान का हाथ होने के पक्के सबूत हैं। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान क्या कहता है, उसे बहुत अधिक तवज्जो देने की जरूरत नहीं है। हम सोच-समझकर कदम उठाएंगे। इसके बारे में अभी कुछ कहना सही नहीं होगा।

Courtesy: NBT
Categories: India