लखनऊ में अपहरण कर 11 वर्षीय मासूम से सामूहिक दुष्कर्म

लखनऊ में अपहरण कर 11 वर्षीय मासूम से सामूहिक दुष्कर्म

लखनऊ लखनऊ के पारा क्षेत्र में देर रात एक घर में घुसे कच्छा-बनियान पहने बदमाशों ने डाका डाला। विरोध पर दंपती को लोहे की राड से हमला कर लहूलुहान कर दिया। इस दौरान बदमाश परिवार की 11 वर्षीय बेटी को अगवा कर खेत में ले गए और उससे सामूहिक दुष्कर्म किया। पीडि़त बालिका को अस्पताल में भर्ती है।
मूलरूप से उन्नाव निवासी एक व्यक्ति यहां पारा क्षेत्र स्थित एक गांव में पत्नी, दो बेटों व बेटी के साथ रहता है। गांव में करीब डेढ़ साल से वह लकड़ी का काम करता है। रात करीब डेढ़ बजे कच्छा-बनियान पहने छह-सात बदमाशों ने उनके मकान में धावा बोल दिया। इससे पूर्व बदमाशों ने मकानों में बल्लियों के सहारे गई बिजली की लाइन को ध्वस्त कर दिया था, जिससे अंधेरा हो गया। परिवार के दरवाजा न खोलने पर बदमाशों ने तोड़ दिया और परिवार के मुखिया को बाहर खींच लाए। विरोध पर लोहे ही राड से सिर पर हमला कर उसे लहूलुहान कर दिया। भीतर उसकी पत्नी को भी मारपीट कर घायल दिया।

बदमाशों ने महिला की झुमकी व पायल उतरवा ली, जबकि बक्शे में रखी पायल, टॉप्स, तीन हजार रुपये, जमीन के कागज, पासबुक, बर्तन व अन्य सामान लूट लिया। इसी बीच बदमाश परिवार की बेटी को बाहर खींच ले गए। पांच बदमाशों ने कुछ दूर खेत में बालिका से सामूहिक दुष्कर्म किया। शोर सुनकर कुछ ग्रामीण इकट्ठा हुए, जिस पर बदमाशों ने दो राउंड फायङ्क्षरग की। इस पर ग्रामीण रुक गए। अंधेरा का लाभ उठाकर बदमाश आसानी से भाग निकले। एसएसपी के मुताबिक तहरीर के आधार पर पारा थाने में डकैती, सामूहिक दुष्कर्म, पॉक्सो (प्रोटेक्शन ऑफ चिल्ड्रेन फ्रॉम सेक्सुअल अफंसेस) एक्ट सहित अन्य धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है।

बालिका ने पांच बदमाशों द्वारा उससे गलत काम किए जाने का बयान दिया है। पीडि़त बालिका का मेडिकल परीक्षण कराया जा रहा है। सनसनीखेज वारदात की सूचना पाकर मंगलवार सुबह आइजी ए.सतीश गणेश, डीआइजी आरकेएस राठौर व एसएसपी मंजिल सैनी सहित अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे और पड़ताल की, लेकिन बदमाशों का कोई सुराग नहीं लग सका।

Courtesy: Jagran.com

Categories: Crime