सर्जिकल स्‍ट्राइक के जवाब में ISI की नई प्‍लानिंग, 5 आतंकी संगठनों में फिर से जान फूंकने की तैयारी

सर्जिकल स्‍ट्राइक के जवाब में ISI की नई प्‍लानिंग, 5 आतंकी संगठनों में फिर से जान फूंकने की तैयारी

कश्मीर में हिंसा और आतंकी हमले के लिए पाकिस्तानी ख़ुफ़िया एजेंसी आईएसआई ने एक नया प्लान बनाया है. 100 दिनों के हिंसक आंदोलन के दौरान कश्मीर में निष्क्रिय हो चुके आतंकी संगठनों को आईएसआई फिर से हमले के लिए तैयार कर रहा है. कश्मीर घाटी में आतंक के इस नए प्लान का जिम्मा मुज़फ़्फ़राबाद (पीओके) में बैठे अल-उमर मुजाहिद्दीन के सरगना मुश्ताक़ जरगर को दिया गया है.

पाकिस्तान की सरजमीं पर सर्जिकल स्ट्राइक से बौखलाए आतंकी संगठनों ने बदला लेने के लिए कश्मीर घाटी में आतंकी हमले का जिम्मा पुराने कश्मीरी आतंकी सरगनाओं को देने का फैसला किया है. ख़ुफ़िया रिपोर्ट से खुलासा हुआ है कि निष्क्रिय हो चुके आतंकी संगठनों जैसे अल-उमर-मुजाहिद्दीन, हरकत उल अंसार/मुजाहिद्दीन, अल बदर, इख्वान-उल-मुजाहिद्दीन और अल जेहाद फ़ोर्स को फिर से ज़िंदा करने की योजना बनाई जा रही है.

आईएसआई ने जैश-ए-मोहम्मद, लश्कर-ए-तैयबा और हिज़्बुल मुजाहिदीन जैसे बड़े आतंकी संगठनों को कश्मीर के बाहर बड़े हमले करने की जिम्मादारी सौंपी है.

कश्मीर घाटी में आतंक के इस नए प्लान का जिम्मा मुज़फ़्फ़राबाद (पीओके) में बैठे अल-उमर मुजाहिद्दीन के सरगना मुश्ताक़ ज़रगर को दिया गया है. मूल रूप से श्रीनगर का रहने वाला मुश्ताक ज़रगर आतंक का पुराना चेहरा है जिसे मसूद अजहर के साथ IC 814 विमान अपहरण के बाद कंधार ले जाकर छोड़ा गया था. आईएसआई कश्मीरियों में मुश्ताक ज़रगर की पकड़ का फायदा उठाकर आतंक के इस नापाक प्लान को कामयाब करने के सपने देख रहा है.

ख़ुफ़िया रिपोर्ट के मुताबिक कश्मीर घाटी में मौजूद 250 आतंकियों में 107 स्थानीय लोग शामिल हैं. आीएसआई ने उनको नए प्लान के तहत चुप चाप सुरक्षा बलों पर हमला करके छिपने का काम दिया है. कश्मीर में मौजूद आतंकी कश्मीर पुलिस के जवानों से हथियार छीनकर सुरक्षा बलों पर हमले कर रहे हैं. ख़ुफ़िया एजेंसियों को आशंका है कि आतंकी हथियार लूटने के लिए पुलिस बलों को ज्यादा से ज्यादा निशाना बनाने की कोशिश में लगे हैं.

आईएसआई के इस नए प्लान की शुरुआत पत्त्थरबाज़ों की आड़ में सुरक्षा बलों पर ग्रेनेड फेंकने के ख़तरनाक प्लान से हुई थी. जाकुरा में हमले से पहले ही अल-उमर-मुजाहिद्दीन के आतंकियों ने श्रीनगर के नौहट्टा चौक पर तैनात सीआरपीएफ के कमांडेंट पर हमला करने की योजना बनाई थी.

खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक़ अल उमर मुजाहिद्दीन घाटी में तैनात सुरक्षा बलों पर हमले और तेज करेगा और साथ ही ये हमले उन आबादी वाले इलाकों में अंजाम देने की फ़िराक़ में हैं जहाँ आसानी से छिपा जा सके.

 

Courtesy: Aajtak

 

Categories: India, International