जेपी, यूनिटेक, सुपरटेक के बाद पार्श्वनाथ की बारी, सुप्रीम कोर्ट ने दिए निवेशकों के पैसे लौटाने का आदेश

जेपी, यूनिटेक, सुपरटेक के बाद पार्श्वनाथ की बारी, सुप्रीम कोर्ट ने दिए निवेशकों के पैसे लौटाने का आदेश

नई दिल्ली
फ्लैट खरीदारों को तय वक्त पर पजेशन दे पाने में फेल रहने पर रीयल्टी सेक्टर की और बड़ी कंपनी पार्श्वनाथ डिवेलपर को अपने निवेशकों के पैसे लौटाने होंगे। सुप्रीम कोर्ट ने कंपनी को सभी 70 निवेशकों के पैसे ब्याज सहित लौटाने का आदेश दिया है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश में कहा गया है कि पार्श्वनाथ डिवेलपर के गाजियाबाद स्थित इग्जॉटिका प्रॉजेक्ट में जिन लोगों ने फ्लैट के ऑर्डर दिए हैं, उन्हें 10 दिसंबर तक ब्याज सहित पैसे लौटाने होंगे। सुप्रीम कोर्ट ने पैसे लौटाने की आखिरी तारीख 10 दिसंबर तय की है। इसके मुताबिक, पार्श्वनाथ डिवेलपर को निवेशकों को 10 दिसंबर तक हर हाल में 22 करोड़ रुपये लौटाने होंगे।

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने यूनिटेक लिमिटेड को उसके गुड़गांव स्थित विस्टा प्रॉजेक्ट के फ्लैट खरीदारों के पैसे लौटाने के आदेश दिए। देश की शीर्ष अदालत ने नोएडा एक्सप्रेस-वे पर बने सुपरटेक एमरल्ड कोर्ट प्रॉजेक्ट को लेकर भी बेहद सख्त रुख अपनाया था। खरीदारों के पैसे लौटाने को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने पिछले महीने कहा था, ‘कंपनी डूबे या मर जाए पर खरीदारों का पैसा वापस दे।’

इन सबसे पहले इसी साल जुलाई में सुप्रीम कोर्ट ने जेपी बिल्डर्स को भी राहत नहीं दी थी। सर्वोच्च न्यायालय ने नैशनल कन्ज्यूमर फोरम के उस आदेश पर स्टे लगाने से मना कर दिया था जिसमें फोरम ने डिवेलपर्स को निर्देश दिया था कि वह खरीदारों के फ्लैट में देरी के कारण 12 प्रतिशत सालाना की दर से जुर्माने की भुगतान करे।

 

Courtesy: NBT

Categories: Finance

Related Articles