विदेश सचिव ने झूठा साबित किया बीजेपी का दावा; कहा- ‘सेना ने पहले भी किए हैं सर्जिकल स्ट्राइक’

विदेश सचिव ने झूठा साबित किया बीजेपी का दावा; कहा- ‘सेना ने पहले भी किए हैं सर्जिकल स्ट्राइक’

केंद्र सरकार की तरफ से एक संसदीय पैनल को बताया गया कि भारतीय सेना ने पहले नियंत्रण रेखा के पार जो आतंकवादी विरोधी अभियान चलाए थे, वो एक खास टारगेट वाले सीमित क्षमता के अभियान थे। लेकिन यह पहला मौका है, जब सरकार ने इसे रणनीति के तहत सार्वजनिक कर दिया। यह जानकारी विदेश सचिव एस. जयशंकर ने विदेशी मामलों से संबंधित संसदीय समिति को मंगलवार को दी। दरअसल सांसदों ने जयशंकर से सवाल पूछा था कि क्या पहले भी सर्जिकल स्ट्राइक की गई थी। जिसके जवाब में जयशंकर ने समिति को बताया कि आतंकवादी विरोधी ऐसी कार्रवाई पहले भी होती रही है लेकिन पहले कभी उनकी ज़िक्र नहीं किया गया। हालांकि पहले हुई कार्रवाई को उन्होंने सर्जिकल स्ट्राइक का नाम नहीं दिया। विदेश सचिव ने यह भी बताया िक स्ट्राइक के बाद 29 सितंबर को पाकिस्तान मिलिट्री ऑपरेशन के डायरेक्टर जनरल को सूचना भी दे दी गई थी। विदेश सचिव एस. जयशंकर की यह टिप्पणी बेहद अहम है क्योंकि रक्षा मंत्री मनोहर पार्रिकर ने बीते हफ्ते कांग्रेस के उन दावों को खारिज कर दिया था कि यूपीए सरकार के कार्यकाल में भी सर्जिकल स्ट्राइक की गईं थी।

Categories: Politics