कश्मीर में पहली बार: आतंकी ठिकाने से मिला चीन का झंडा, 700 घरों की तलाशी, 44 अरेस्ट

कश्मीर में पहली बार: आतंकी ठिकाने से मिला चीन का झंडा, 700 घरों की तलाशी, 44 अरेस्ट

जम्मू. जम्मू-कश्मीर में सिक्युरिटी फोर्सेस ने बड़े सर्च ऑपरेशन के दौरान 44 लोगों को अरेस्ट किया है। उनके पास से चीन और पाकिस्तान का झंडा बरामद हुआ है। ऐसा शायद पहली बार है जब कश्मीर में आतंकी ठिकानों से चीन का झंडा मिला है। अरेस्ट लोगों पर आतंकी गतिविधियों में शामिल होने का शक है। उनके पास से बम, पाकिस्तान का झंडा और जैश-ए-मोहम्मद का लेटर पैड भी मिला है। फोर्सेस ने 18 अक्टूबर को 12 घंटे के अंदर 700 घरों में सर्च ऑपरेशन किया। ज्वाइंट टीम ने की कार्रवाई…

न्यूज एजेंसी के मुताबिक, सिक्युरिटी फोर्सेस की ज्वाइंट टीम ने यह कार्रवाई पुराने बारामुला में की।

आर्मी स्पोक्सपर्सन ने बताया, ’17 अक्‍टूबर को बारामूला में एक बड़े सर्च ऑपरेशन के दौरान 12 घंटे के अंदर 700 से ज्‍यादा घरों की तलाशी ली गई।

44 लोगों को हिरासत में लिया गया, जिन पर आतंकी गतिविधियों में शामिल होने का शक है।’ इस दौरान सस्पेक्ट आतंकियों के कई ठिकानों का भी पता चला।

ज्वाइंट ऑपरेशन में मिला पेट्रोल बम

सर्च ऑपरेशन के दौरान बरामद हुईं कई दूसरी चीजों में पेट्रोल बम, लश्‍कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्‍मद के लेटर हेड पैड्स, कई मोबाइल फोन्‍स भी हैं।

इस ज्वाइंट सर्च ऑपरेशन को आर्मी, पुलिस, बीएसएफ और सीआरपीएफ ने मिलकर किया।

कार्रवाई से पहले बंद कर दिए थे निकलने के रास्ते

जानकारी के मुताबिक खुफिया सूचना मिलने के बाद सर्च ऑपरेशन की कार्रवाई हुई।
कार्रवाई से पहले सिक्युरिटी फोर्सेस ने बारामुला में पुराने शहर की घेराबंदी की और निकलने के सभी रास्तों को बंद कर सर्च ऑपरेशन चलाया।
बता दें कि घाटी में आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी को सिक्युरिटी फोर्सेस ने एनकाउंटर में मार दिया था। इसके बाद से ही यहां अशांति है।

Courtesy: Bhaskar.com

Categories: India

Related Articles