कानपुर की महिला ने विधान भवन के सामने किया आत्मदाह का प्रयास

कानपुर की महिला ने विधान भवन के सामने किया आत्मदाह का प्रयास

लखनऊ कानपुर निवासी महिला ने पुलिस-प्रशासन से न्याय न मिलने पर मंगलवार को विधान भवन के गेट नंबर तीन के सामने आत्मदाह का प्रयास किया। महिला ने खुद पर मिट्टी का तेल डालकर आग लगाने की कोशिश की, लेकिन पुलिसकर्मियों ने उसे वक्त रहते पकड़ लिया। बाद में महिला व उसकी बेटी को हजरतगंज कोतवाली ले जाया गया, जहां से दोनों को कानपुर भेज दिया गया। इंस्पेक्टर हजरतगंज विजयमल यादव के मुताबिक कानपुर पुलिस की एक टीम आई थी, जो महिला व उसकी बेटी को साथ ले गई।

कानपुर के शिवराजपुर थानाक्षेत्र निवासी पीडि़त महिला का आरोप है कि एक क्षेत्रीय व्यक्ति को उसने अपनी जमीन बेची थी, लेकिन काफी समय बीत जाने के बाद भी आरोपी ने उसको बकाया रकम नहीं दी। जब उसने इसकी शिकायत प्रशासन से की, तो दबंगों ने उसकी बेटी को घर से अगवा कर सामूहिक दुष्कर्म किया। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज की, लेकिन आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया। आरोप है कि पुलिस की मिलीभगत से आरोपियों ने समर्पण कर दिया था। जमीन विवाद को लेकर उसके बेटे पर गोली भी चलाई गई। मामले में 22 अगस्त को जानलेवा हमले की रिपोर्ट दर्ज कराई गई, लेकिन पुलिस ने उसमें भी कोई ठोस कार्रवाई नहीं की।

आरोप है कि विपक्षियों ने उसके एक लाख 78 हजार रुपये का भुगतान नहीं किया, जबकि एसडीएम व सीओ ने विपक्षियों से सुलह वार्ता कराकर 90 हजार रुपये का भुगतान कराने को कहा था, लेकिन विपक्षियों ने एक रुपये भी नहीं दिया। न्याय न मिलने पर वह मंगलवार को अपनी छोटी बेटी के साथ लखनऊ आई थी। महिला के मुताबिक उसने मुख्यमंत्री, राज्यपाल, मुख्य सचिव सहित अन्य अधिकारियों को न्याय न मिलने पर आत्मदाह करने की चेतावनी दी थी।

Courtesy: Jagran.com

Categories: Regional