अमर सिंह बोले- जैसे मोहन भागवत ने नरेंद्र मोदी को बनाया, वैसे ही मुलायम के बिना अखिलेश का आगे बढ़ना नामुमकिन

अमर सिंह बोले- जैसे मोहन भागवत ने नरेंद्र मोदी को बनाया, वैसे ही मुलायम के बिना अखिलेश का आगे बढ़ना नामुमकिन

समाजवादी पार्टी के महासचिव और राज्य सभा सांसद अमर सिंह को लेकर उत्तर प्रदेश में सत्ताधारी समाजवादी पार्टी दो फाड़ नजर आ रही है। सीएम अखिलेश यादव ने उन पर मुलायम सिंह यादव परिवार और सपा सरकार में फूट डालने का आरोप लगाते हुए उन्हें बाहर करने की मांग की है। वहीं मुलायम सिंह यादव ने साफ कह दिया कि अमर सिंह के सभी “पाप” उन्होंने माफ कर दिए हैं। सोमवार (24 अक्टूबर) को मुलायम ने लखनऊ में सपा मुख्यालय में सार्वजनिक मंच पर कहा कि अमर सिंह ने उन्हें जेल जाने से बचाया था और पार्टी में सिंह के खिलाफ आवाज उठाने वाले कई लोग उनके पैरों की धूल के बराबर भी नहीं हैं। जब लखनऊ में सपा के वरिष्ठ नेता आपस में तकरार कर रहे थे तब अमर सिंह कोलकाता में थे। वहां एक सार्वजनिक कार्यक्रम में अमर सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का हवाला देते हुए इशारा किया कि अखिलेश यादव को मुलायम सिंह यादव के प्रति वफादार रहना चाहिए क्योंकि उन्हीं की वजह से वो मुख्यमंत्री बने हैं।

एक सवाल के जवाब में अमर सिंह ने कहा, “…जिस तरह अगर आरएसएस का समर्थन न होता तो मोदी पीएम नहीं बन पाते। आरएसएस के समर्थन के बिना वो क्या हैं? अगर उनके पीछे आरएसएस न होता तो वो पीएम पद के उम्मीदवार ही नहीं बन पाते। इसलिए पीएम उम्मीदवार बनने के लिए उन्हें मोहन भागवत के प्रति वफादार रहना पड़ा था।…इसलिए उत्तर प्रदेश की समाजवादी पार्टी की राजनीति में मुलायम सिंह यादव ही अब तक पार्टी की जान हैं।”  अमर सिंह फैशन डिजाइनर ज्योति खेतान सिंह द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में  टेलीग्राफ अखबार द्वारा पूछे गए सवालों का जवाब दे रहे थे।

पार्टी के अंदर जारी घमासान पर पूछे गए सवाल पर अमर सिंह ने पलटवार करते हुए कहा, सीपीएम में पिन्नाराई विजयन और वीएस अच्युतानंदन और कांग्रेस में प्रणब मुखर्जी और पी चिदंबरम के बीच के संकट क्या हैं? लोकतंत्र में ऐसे संकट बड़ी बात नहीं हैं। बीजेपी द्वारा समाजवादी पार्टी को तोड़ने के लिए भेजे जाने के आरोप पर सिंह ने कहा कि वो इसका जवाब नहीं देंगे क्योंकि पार्टी अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने इस बारे में बयान दे दिया है।

अमर सिंह ने कार्यक्रम में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की भी जमकर तारीफ की। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, “मैं कहना चाहूंगा कि राहुलजी को लोग गलत समझते हैं। उनकी गलत छवि पेश की गई है जिसमें वो फंस गए हैं। मैं उन्हें ज्यादा नहीं जानता था लेकिन पिछले कुछ सालों में हम अच्छे दोस्त हो गए हैं।” राहुल की तारीफ में अमर ने कहा, “वो काफी जानकार हैं। वो काफी पढ़ाकू हैं। आप उनसे शीत युद्ध से लेकर हिज्बुल्लाह तक के बारे में पूछ लीजिए और आप उनकी जानकारी से हैरान रह जाएंगे। वो बुद्धिमान और विनम्र भी हैं। वो अपनी गलतियां स्वीकार करके सीखते हैं। वो अहंकार का बोझ लेकर नहीं चलते।”

Courtesy: Jansatta 

 

Categories: Politics

Related Articles