सूरत का डायमंड कारोबारी 1660 वर्कर्स को बोनस में देगा 1260 कार और 400 मकान

सूरत का डायमंड कारोबारी 1660 वर्कर्स को बोनस में देगा 1260 कार और 400 मकान

सूरत. शहर के डायमंड व्यापारी सवजी भाई ढोलकिया ने अपनी कंपनी के 1716 वर्कर्स को सर्वश्रेष्ठ काम के बदले में बोनस के रूप में कार और मकान देने की घोषणा की है। 1660 वर्कर्स को 51 करोड़ कीमत की 1260 कार और 400 मकान दिए जाएंगे। इसके अलावा 56 वर्कर्स को ज्वैलरी दी जाएगी। 2014 में 1312 वर्कर्स को दिए थे कार और मकान…

– बीते मंगलवार को पारिवारिक स्नेह मिलन कार्यक्रम में कंपनी हरेकृष्णा एक्सपोर्ट के चेयरमैन सवजी भाई ने इसका ऐलान किया।

– 2014 में सवजी भाई ने अपनी कंपनी के 1312 वर्कर्स को 491 कार, 200 मकान और ज्वैलरी बोनस के तौर पर बांटा था।

– इस साल जिन्हें बोनस दिया जाएगा, उनमें पिछली बार के वर्कर्स को शामिल नहीं किया गया है।

– सवजी भाई ढोलकिया कहते हैं- ‘आज भाई-भाई के बीच कटुता देखने को मिल रही है, ऐसे में किसी दूसरे को कार देने की भावना हरेकृष्णा कंपनी में ही देखने को मिल सकती है।’

– बता दें कि कंपनी हरेकृष्णा एक्सपोर्ट का टर्नओवर करीब 6,000 करोड़ रुपए है।

5 हजार रुपए का प्रीमियम 5 साल तक देगी कंपनी

– हरेकृष्णा एक्सपोर्ट के जिन 1660 वर्कर्स को सर्वश्रेष्ठ परफॉर्मेंस के लिए चुना गया है, उसमें से 1200 वर्कर ऐसे हैं, जिनका वेतन 10 हजार रुपए से लेकर 60 हजार रुपए तक है।

– जिन 400 वर्कर्स को मकान देने का फैसला किया गया है, उन्हें डाउन पेमेंट की कोई रकम नहीं चुकानी होगी।

– वर्कर्स पर बोझ न पड़े, इसलिए हर महीने 5 साल तक 5 हजार रुपए का प्रीमियम कंपनी चुकाएगी।

– कंपनी मकान के लिए लोन दिलाने में भी पूरी मदद करेगी। कार लेने वाले वर्कर्स को मारूति या निशान का ऑप्शन दिया गया है।

सभी 5500 वर्कर्स के पास होगा अपना मकान और कार

– इस कंपनी को अगले साल 25 वर्ष पूरे हो रहे हैं। कंपनी के प्रमुख सवजी भाई चाहते हैं कि तब तक सभी 5500 वर्कर्स के पास अपने मकान और कार हों।

– मारूति 800 जब मार्केट में आई थी, तब भी दो वर्कर्स को बोनस के रूप में यह कार दी गई थी।

Courtesy: Bhaskar

Categories: India

Related Articles