जोधपुर से पकड़ा गया तीसरा जासूस, 6 बार पाकिस्तान जा चुका है शोएब

जोधपुर से पकड़ा गया तीसरा जासूस, 6 बार पाकिस्तान जा चुका है शोएब

नई दिल्ली। पाकिस्तान उच्चायोग जासूसी कांड में दिल्ली पुलिस ने एक और आरोपी को गिरफ्तार किया है। गुरुवार रात को दिल्ली पुलिस ने शोएब नाम के एक शख्स को जोधपुर से पकड़ा। शोएब पर कल गिरफ्तार किए गए रमजान और सुभाष के साथ मिलकर जासूसी करने और उच्चायोग के अफसर महमूद अख्तर को बॉर्डर से जुड़ी अहम जानकारियां देने का आरोप है।

सूत्रों के मुताबिक शोएब ही इस पूरे जासूसी कांड में हनी ट्रैप के लिए लड़कियां सप्लाई करवाता था। रमजान और सुभाष के साथ शोएब 25 तारीख को दिल्ली आया था। पर ये चिड़ियाघर ना जाकर दिल्ली के शांतिकुंज होटल में ही रुक गया था। जब इसे दोनों की गिफ्तारी की जानकारी मिली तो भाग गया। शोएब 6 बार पाकिस्तान भी जा चुका है। शोएब एक वीजा एजेंट है और पाकिस्तान हाई कमिशन में इसकी अच्छी पहचान है।

सूत्रों के मुताबिक शोएब ने क्राइम ब्रांच की पूछताछ में कबूल किया है कि वो लड़कियां सप्लाई करता था। इसके पास से एक फेबलेट और कुछ महत्वपूर्ण डॉक्यूमेंट मिले हैं। इसके अलावा पाक हाई कमिशन में एंट्री का एक विजिटर कार्ड भी मिला है। शोएब राजस्थान और गुजरात बॉर्डर के सेना और बीएसएफ से जुड़ी अहम जानकारियां रमजान और सुभाष को देता था। इसके बाद ये जानकारी महमूद को दी जाती थी।

दिल्ली पुलिस ने गुरुवार को पाकिस्तान उच्चायोग के अधिकारी महमूद अख्तर को गिरफ्तार किया था जो रमजान-सुभाष से भारत-पाक सीमा पर तैनात बीएसएफकर्मियों से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी हासिल कर रहा था।
हालांकि राजनायिक छूट के चलते उसे थोड़ी देर में छोड़ दिया गया था, लेकिन भारत ने अख्तर से 48 घंटे के भीतर देश छोड़ने को कहा है। 35 साल का अख्तर पाकिस्तानी सेना के बलूच रेजीमेंट से जुड़ा है और वह 2013 से जासूसी एजेंसी आईएसआई में प्रतिनियुक्ति पर था।

Courtesy: IBN7

Categories: India

Related Articles