बांग्‍लादेशी स्पिनर मेहदी हसन के नक्‍शे कदम पर चलकर इंग्‍लैंड के लिए मुसीबत बनेंगे आर. अश्विन-रवींद्र जडेजा!

बांग्‍लादेशी स्पिनर मेहदी हसन के नक्‍शे कदम पर चलकर इंग्‍लैंड के लिए मुसीबत बनेंगे आर. अश्विन-रवींद्र जडेजा!

इंग्लैंड के भारत दौरे से पहले बांग्लादेश के युवा स्पिनर मेहदी हसन ने बता दिया कि इंग्लिश बल्लेबाज़ों को चित कैसे करना है. बांग्लादेश के इस युवा स्पिनर ने दो टेस्ट में 19 इंग्लिश बल्लेबाज़ों को आउट किया और दूसरे टेस्ट में जीत में अहम भूमिका निभाई.

अब फिरकी में फंसी इंग्लिश टीम के हौसले पस्त है और टीम इंडिया की स्पिनर्स रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा अपने हथियारों को धार देने में लगे होंगे. टेस्ट में नंबर एक गेंदबाज़ की रैंकिंग पर काबिज़ रविचंद्रन अश्विन के आंकड़े ही इंग्लैंड की नींद उड़ाने के लिए काफी हैं. अश्विन ने न्यूज़ीलैंड सीरीज़ के दौरान अपने 200 टेस्ट विकेट पूरे किए. कीवी टीम के खिलाफ इस ऑफ स्पिनर ने 3 टेस्ट में 27 विकेट हासिल किए. यही नहीं, लगातार 4 टेस्ट सीरीज़ में वे मैन ऑफ़ द सीरीज़ बने हैं.

अश्विन के जोड़ीदार रवींद्र जडेजा भी बल्लेबाज़ों को छकाने में पीछे नहीं. जडेजा ने न्यूज़ीलैंड सीरीज़ में 14 विकेट झटके. आईसीसी रैंकिंग में जडेजा 7वें नंबर पर काबिज हैं. न्‍यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज में इन दोनों ने मिलकर जिस तरह से कहर ढाया, उसे देखते हुए लगता है कि इंग्लैंड को इनसे पार पाने के लिए कुछ स्पेशल करना होगा. हाल ही में खत्म हुई न्यूज़ीलैंड सीरीज़ के 3 टेस्ट मैचों में इस जोड़ी ने कुल 60 में से 41 कीवी विकेट अपने नाम किए.

साल 2015 में दक्षिण अफ़्रीका के खिलाफ़ 4 टेस्ट की सीरीज़ में कुल 70 में से 54 विकेट इसी जोड़ी के नाम रहे थे. इन दोनों को न्यूज़ीलैंड के खिलाफ़ वनडे सीरीज़ में आराम दिया गया था, अब ये दोनों तरोताज़ा होकर इंग्लैंड के खिलाफ़ मैदान पर उतरेंगे. अश्विन के पास तो साल 2015 की तरह साल 2016 में भी सबसे ज्यादा टेस्ट विकेट लेने का मौका है जबकि जडेजा का टारगेट गेंद के साथ साथ बल्ले से भी उपयोगी साबित होना है. इन दोनों के अलावा चयनकर्ताओं के पास अमित मिश्रा का भी विकल्प है, जो न्‍यूजीलैंड टीम के खिलाफ़ वनडे सीरीज़ में मैन ऑफ़ द सीरीज़ रहे.

Courtesy: ABPNews

Categories: Sports

Related Articles