सेंसेक्स 349 अंक और निफ्टी 112 अंक गिरकर बंद, PSU बैंक स्टॉक्स टूटे

सेंसेक्स 349 अंक और निफ्टी 112 अंक गिरकर बंद, PSU बैंक स्टॉक्स टूटे

नई दिल्ली। फेडरल रिजर्व की बैठक के नतीजे से पहले ग्लोबल मार्केट में दबाव से घरेलू स्टॉक मार्केट तेज गिरावट के साथ बंद हुए हैं। बुधवार के कारोबार में सेंसेक्स 349 अंक गिर कर 27527 के स्तर पर बंद हुआ है। वहीं निफ्टी 112 अंक गिर कर 8514 के स्तर पर बंद हुआ है। निफ्टी पर सभी सेक्टर इंडेक्स में गिरावट देखने को मिली है। सबसे ज्यादा गिरावट सरकारी बैंकों के इंडेक्स में दर्ज हुई है।

निफ्टी के 45 स्टॉक्स गिरावट के साथ बंद

बुधवार को निफ्टी में शामिल 45 स्टॉक गिरावट के साथ बंद हुए हैं। टाटा मोटर्स डीवीआर 3.87 फीसदी, ओएनजीसी 3.82 फीसदी, टाटा मोटर्स 3.08 फीसदी यस बैंक 3.05 फीसदी और बैंक ऑफ बड़ौदा 2.9 फीसदी की गिरावट के साथ बंद हुआ है। वहीं निफ्टी के 13 स्टॉक्स 2 फीसदी से ज्यादा की गिरावट के साथ बंद हुए हैं।

पीएसयू बैंक स्टॉक्स में सबसे ज्यादा गिरावट

आज के कारोबार में सबसे ज्यादा गिरावट सरकारी बैंकों के स्टॉक्स में देखने को मिली है। इंडेक्स में शामिल सभी 11 स्टॉक्स गिरावट के साथ बंद हुए हैं। सभी स्टॉक्स को 2 फीसदी से ज्यादा का नुकसान हुआ है। केनरा बैंक 5.6 फीसदी की गिरावट के साथ बंद हुआ है। वहीं पीएनबी में 4.9 फीसदी, ओबीसी में 4.35 फीसदी और बैंक ऑफ इंडिया में 4.17 फीसदी की गिरावट रही है।

रियल्टी सेक्टर इंडेक्स 2.85 फीसदी की गिरावट के साथ बंद हुआ है। डेल्टा कॉर्प 5.26 फीसदी, एचडीआईएल 5.13 फीसदी और इंडिया बुल्स रियल एस्टेट 4.9 फीसदी की गिरावट के साथ बंद हुआ है।

एनर्जी सेक्टर इंडेक्स 2.25 फीसदी की गिरावट के साथ बंद हुआ है। ओएनजीसी में 4 फीसदी, आईओसी में 2.9 फीसदी और रिलायंस इंडस्ट्रीज में 2.6 फीसदी की गिरावट देखने को मिली है।

फार्मा सेक्टर इंडेक्स में 2.31 फीसदी की गिरावट रही है। इंडेक्स में शामिल सभी 10 स्टॉक गिरावट के साथ बंद हुए हैं। केडिला हेल्थकेयर 4.5 फीसदी, पीरामल एंटप्राइजेस 3.33 फीसदी और सन फार्मा 2.71 फीसदी की गिरावट के साथ बंद हुआ है।

निफ्टी बैंक इंडेक्स 1.17 फीसदी, ऑटो सेक्टर इंडेक्स 1.34 फीसदी, एफएमसीजी सेक्टर इंडेक्स 0.71 फीसदी, आईटी सेक्टर इंडेक्स 1.12 फीसदी, मेटल सेक्टर इंडेक्स 0.85 फीसदी और इंफ्रा सेक्टर इंडेक्स 1.15 फीसदी की गिरावट के साथ बंद हुआ है।

क्यों आई मार्केट में गिरावट

घरेलू स्टॉक मार्केट में गिरावट ग्लोबल संकेतों की वजह से रही है। आज फेडरल रिजर्व की दो दिवसीय मीटिंग खत्म होनी है। इसके साथ ही अमेरिका के राष्ट्रपति चुनावों को लेकर भी निवेशकों के बीच सतर्कता देखने को मिल रही है। फिलहाल यूरोपियन मार्केट में गिरावट बढ़ गई है। वहीं अमेरिकी फ्यूचर मार्केट से संकेत मिले हैं कि अमेरिकी मार्केट में भी गिरावट देखने को मिल सकती है।

एशियाई बाजारो की शुरूआत भी गिरावट के साथ हुई थी। यूएस मार्केट के लाल निशान में बंद होने का असर एशियाई बाजारों पर देखने को मिल रहा है। अमेरिका में कंपनियों के निराशाजनक नतीजे और यूएस राष्ट्रपति पद के इलेक्शन के कारण यूएस मार्केट पर दबाव देखने को मिला वहीं फेडरल रिजर्व की बैठक के कारण भी बाजारों में सुस्ती दर्ज की गई।

एशियाई बाजारों में गिरावट

एशियाई बाजारों की शुरुआत गिरावट के साथ हुई। अमेरिका बाजारों में गिरावट का असर एशियाई बाजारों पर देखने को मिल रहा है। निक्केई 1.39 फीसदी, शंघाई इंडेक्स 0.22 और हैंगसैंग 1.27 फीसदी गिरकर पर कारोबार कर रहा है वहीं एसजीएक्स निफ्टी में भी 0.92 फीसदी की गिरावट देखने को मिल रही है।

यूएस मार्केट लाल निशान में बंद

महीने के पहले कारोबार दिन मंगलवार को यूएस मार्केट गिरावट के साथ बंद हुई। यूएस इलेक्शन के लिए डिबेट में हिलेरी क्लिंटन ने भले बढ़त बनाई हो लेकिन एफबीआई के हिलेरी क्लिंटन के ईमेल जांच की खबरों का असर यूएस मार्कट पर देखने को मिल रहा है। डाव जोंस इंडेक्स 0.58 फीसदी, एसएंडपी 500 इंडेक्स 0.68 फीसदी और नेसडेक 0.69 फीसदी पर बढ़कर बंद हुआ।

 

Courtesy: Bhaskar

Categories: Finance