जयललिता अब ठीक हैं, उन्हें जो चाहिए वह बता रही हैं और मांग रही हैं : अपोलो अस्पताल

जयललिता अब ठीक हैं, उन्हें जो चाहिए वह बता रही हैं और मांग रही हैं : अपोलो अस्पताल

चेन्नई: तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे जयललिता की हालत में सुधार हो रहा है. उन्हें जल्द ही क्रिटिकल केयर यूनिट (सीसीयू) से एक निजी कक्ष में भर्ती किया जाएगा.  चेन्नई के अपोलो अस्पताल ने बताया है कि तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता अब ठीक हैं. अस्पताल ने कहा कि ‘उन्हें जो चाहिए वह बता रही हैं और मांग रही हैं.’’

इससे पहले ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (एआईएडीएमके) के वरिष्ठ नेता सी पोनाइयन ने बताया, “फेफड़ों का संक्रमण अब नियंत्रण में है. वह गंभीर स्थिति से बाहर आ चुकी हैं. श्वास प्रणाली को धीरे-धीरे हटाया जा रहा है. इसका इस्तेमाल कभी-कभी जरूरत पड़ने पर किया जा रहा है.”

उन्होंने कहा कि पिछले एक सप्ताह से जयललिता को अर्ध ठोस आहार दिया जा रहा था. वह अब लोगों से बात भी करने लगी हैं. जयललिता (68) को बुखार और डिहाइड्रेशन के बाद 22 सितंबर को अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

चिकित्सकों ने बाद में कहा कि उन्हें लंबे समय तक अस्पताल में रहने की जरूरत है, क्योंकि उन्हें संक्रमण था और उन्हें श्वसन रक्षा तंत्र पर रखा गया था.

अपोलो अस्पताल के मुताबिक, ह्रदय रोग विशेषज्ञ, श्वास चिकित्सक, संक्रामक रोगों के सलाहकार, मधुमेह चिकित्सक और एंडोक्रिन्कोलोजिस्ट उनका इलाज कर रहे हैं.

अपोलो अस्पताल ने 21 अक्टूबर को जारी मेडिकल बुलेटिन में कहा था कि जयललिता लोगों से बात कर रही हैं और अब उनकी हालत में धीरे-धीरे सुधार हो रहा है.

पोनाइयन के मुताबिक, अब चिकित्सकों को निर्धारित करना है कि जयललिता को कब अस्पताल से छुट्टी दी जाए.

पोनाइयन ने कहा, “अब उनकी हालत में सुधार हो चुका है. निजी कक्ष में स्थानांतरित करने और उनके निवास स्थान पर पहुंचने के बाद बाकी स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं को सुलझाया जाएगा.”

उन्होंने कहा कि जयललिता फेफड़ों के संक्रमण से जूझ रही थीं, जिससे समस्या बढ़ी थी. वह गहरे संक्रमण के कारण लगभग 18 दिनों तक तेज बुखार से पीड़ित रहीं. पोनाइयन ने कहा, “उचित दवाओं की मदद से बुखार खत्म हो गया है.”

Courtesy: NDTV

Categories: Politics

Related Articles