यूपी: वाराणसी में स्वीडन के दूल्हा-दुल्हन ने की शादी, मां गंगा से किया था वादा

यूपी: वाराणसी  में स्वीडन के दूल्हा-दुल्हन ने की शादी, मां गंगा से किया था वादा

वाराणसी: धर्म नगरी काशी में एक अनोखी शादी हुई. दूल्हन और दुल्हा दोनों स्वीडन के रहने वाले हैं. माता गंगा से दोनों ने एक वादा किया था उसी वादा को पूरा करने दोनों स्वीडन से आए थे.

वाराणसी के अस्सी घाट से दूल्हे राजा निकोलस की बारात निकली. बैंड बाजे की धुन पर लोग झूम रहे थे तो घोड़ी पर सवार निकोलस शादी के लिए शिव मंदिर की तरफ बढ़ रहे थे. बारात में दुल्हन टिल्डा भी शामिल हो गई. दूल्हा-दुल्हन अपनी शादी में खूब डांस किया.

दूल्हा निकोलस और दुल्हन टिल्डा दोनों स्वीडेन के रहने वाले हैं. कुछ साल पहले टिल्डा वाराणसी की कला संस्कृति पर शोध के सिलसिले में वाराणसी आई थीं, उसी दौरान टिल्डा की मुलाकात निकोलस से हुई. दोनों में दोस्ती हुई और फिर दोनों में प्यार हो गया.

दोनों ने गंगा मां के सामने शादी करने का वादा किया. दो साल बाद ये वादा पूरा करने का मौका आया है. अस्सी घाट के नजदीक शिव मंदिर में दोनों विदेशी प्रेमी युगल सप्तवदी के सात फेरों के संस्कारों के साथ सात जन्मों के बंधन में बंध गए. दोनों ने वैदिक रिति से शादी की.

भारतीय परंपरा और संस्कृति के मुताबिक हुई इस शादी में देश-विदेश के मेहमान शामिल हुए. इस शादी का आयोजन वाराणसी के रहने वाले पंडित अजय मिश्रा ने किया. पंडित मिश्रा ने टिल्डा को रिसर्च के समय काफी मदद की थी.

Courtesy:abpnews

Categories: Regional

Related Articles