टाटा संस ने साइरस मिस्‍त्री पर लगाए गंभीर आरोप- भरोसा तोड़ा, अपने नियंत्रण में लेना चाहते थे बड़ी कंपनियां

टाटा संस ने साइरस मिस्‍त्री पर लगाए गंभीर आरोप- भरोसा तोड़ा, अपने नियंत्रण में लेना चाहते थे बड़ी कंपनियां

टाटा संस ने इशहात हुसैन को टीसीएस का अंतरिम चेयरमैन नियुक्‍त किया है।

साइरस मिस्‍त्री को टाटा कंसल्‍टेंसी सर्विसेज के चेयरमैन पद से हटाने के कुछ ही घंटों बाद टाटा संस ने उनपर गंभीर आरोप लगाए हैं। समूह का कहना कि मिस्‍त्री ने उनके भरोसे का नाजायज फायदा उठाया और टाटा ग्रुप की बड़ी फर्मों का नियंत्रण हाथ में लेना चाहा। टाटा संस ने एक विज्ञप्ति‍ जारी कर मिस्त्री पर योजनाबद्ध तरीके से बाेर्ड के अन्‍य सदस्‍यों को बाहर करने का आरोप लगाया है। विज्ञप्ति में कहा गया है कि पिछले चार साल में, मिस्‍त्री ने समूह का एकमात्र प्रतिनिधि बनने के लिए रणनीति बनाई और उस पर अमल किया। टाटा संस ने कहा, ”मिस्‍त्री के नेतृत्‍व में, समूह का 100 साल पुराना ढांचा हिल गया है, फर्में प्रमोटर्स, शेयरहोल्‍डर्स से दूर जा रही हैं। इससे पहले टाटा संस ने इशहात हुसैन को टीसीएस का अंतरिम चेयरमैन नियुक्‍त किया है। समूह ने एक असाधारण आम बैठक कर मिस्‍त्री को चेयरमैन पद से हटाया। इस परिवर्तन के बारे में टीसीएस ने स्‍टॉक एक्‍सचेंज और अपने शेयरहोल्‍डर्स को जानकारी दे दी है।

Courtesy: Jansatta

Categories: Finance