नोटबंदी के बाद भाजपा को पहला झटका, महाराष्‍ट्र लोकल चुनाव में सभी 17 सीटें हारी

नोटबंदी के बाद भाजपा को पहला झटका, महाराष्‍ट्र लोकल चुनाव में सभी 17 सीटें हारी

पीएम मोदी के नोटबंदी के फैसले के बाद भाजपा को करारा झटका लगा है। मोदी सरकार ने 500-1000 के नोटों पर बैन लगा दिया है। इसका असर देश की जनता पर पड़ रहा है साथ ही भाजपा को भी इससे नुकसान पहुंचने लगा है। 

नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा ने गत वर्षों में चुनाव जीतने के कीर्तिमान बनाये लेकिन अब उनके नोटबंदी के निर्णय ने पार्टी को झटका दे दिया है। महाराष्ट्र के एक लोकल एग्रिकल्चर बॉडी चुनाव में भाजपा को एक भी सीट हांसिल नहीं हुई । भाजपा के सभी प्रत्याशियों को महाराष्ट्र के एक लोकल एग्रिकल्चर बॉडी चुनाव में हार का मुंह देखना पड़ा। महाराष्ट्र में हुए इस चुनाव में 17 सीटों के लिए मतदान किया गया था।

इस चुनाव में सबसे अधिक 15 सीटों पीसेंट्स एंड वर्कर्स पार्टी ऑफ इंडिया ने जीती हैं। वहीं दूसरी ओर, शिवसेना और कांग्रेस ने एक-एक सीट पर जीत हासिल की है।  कांग्रेस ने 25 साल बाद एपीएमसी पोल में एक सीट जीतने में सफलता हासिल कर ली है।

पीएम मोदी द्वारा देश में अचानक 500-1000 के नोट बंद कर देने के बाद लोगों का सामान्य जन-जीवन अस्त व्यस्त हो गया है। सबसे ज्यादा परेशानी रिटेल और खुदरा व्यापारियों को उठानी पड़ रही हैं। किसानों और मजदूरों को पैसे के चलते दर-दर भटकना पड़ रहा है। बैंकों और एटीम के सामने लोगों की लम्बी कतारें देखने को मिल रही हैं।

सरकार ने फिलहाल 500 और 2000 रुपए के नए नोट जारी किए हैं। सरकार ने यह कदम कालेधन पर लगाम लगाने के चलते उठाया है। सरकार के अनुसार इस कदम से आतंकवादियों और नक्सलियों को होने वाली फंडिंग पर भी रोक लगेगी। लेकिन अब इसका असर चुनाव परिणामें में भी दिखने लगा है।

Courtesy: Outlookhindi.com

Categories: Politics

Related Articles